विंबलडन 2017 : ऐतिहासिक खिताबी जीत का 'नशा', सुबह 5 बजे तक ड्रिंक करते रहे रोजर फेडरर

विंबलडन के पुरुष एकल वर्ग में आठवीं खिताबी जीत का नशा स्विट्जरलैंड के टेनिस स्‍टार रोजर फेडरर के सर चढ़कर बोला.

विंबलडन 2017 : ऐतिहासिक खिताबी जीत का 'नशा', सुबह 5 बजे तक ड्रिंक करते रहे रोजर फेडरर

रोजर फेडरर ने फाइनल में मॉरिन चिलिच को हराकर विंबलडन पुरुष एकल खिताब जीता (फाइल फोटो)

लंदन:

प्रतिष्ठित विंबलडन चैंपियनशिप के पुरुष एकल वर्ग में आठवीं खिताबी जीत का नशा स्विट्जरलैंड के टेनिस स्‍टार रोजर फेडरर के सर चढ़कर बोला. इस ऐतिहासिक जीत के बाद फेडरर बार में सुबह 5 बजे तक जाम पर जाम लेते रहे. उन्‍होंने स्‍वीकार किया कि रिकॉर्ड जीत का जश्‍न मनाने के बाद सुबह वे 'हैंगओवर' के दौर में थे. 35 वर्षीय इस खिलाड़ी ने रविवार को हुए फाइनल मुकाबले में सातवीं वरीयता प्राप्‍त मॉरिन चिलिज को सीधे सेटों में  6-3 6-1 6-4 से शिकस्‍त दी. यह प्रतियोगिता में उनका आठवां खिताब रहा. इस खिताबी जीत के साथ उन्‍होंने पीट सम्‍प्रास के सात विंबलडन खिताब जीतने के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा.

इस जीत के साथ फेडरर अपने ग्रैंडस्‍लैम खिताब की संख्‍या 19 तक पहुंचाने में सफल रहे जो कि स्‍पेन के राफेल नडाल से चार अधिक है. इस वर्ष फेडरर तीन ग्रैंडस्‍लैम में दो, ऑस्‍ट्रेलियन ओपन और विंबलडन में चैंपियन बने हैं. विंबलडन में खिताबी जीत के बाद वे वे महिला वर्ग की चैंपियन गार्बाइन मुरुगुजा के साथ परंपरागत डिनर में शामिल हुए.
 


सोमवार सुबह के अपने अनुभव को शेयर करते हुए फेडरर ने बताया, 'मेरे सिर में जैसे घंटियां बज रही थीं. मुझे नहीं पता कि पिछली राज को मैंने क्‍या किया. शायद मैंने अलग-अलग तरह के कई ड्रिंक लिए.यह अच्‍छा समय रहा. मैं सुबह करीब पांच बजे सोया और जब जागा तो ठीक महसूस नहीं कर रहा था.'

यह भी पढ़ें
सहवाग ने रोजर फेडरर का 'अनोखा' फोटो शेयर किया.. क्या आपने देखा?
यदि कोई कहता कि मैं 2017 में दो ग्रैंडस्‍लैम जीतूंगा तो ठहाका लगाता : फेडरर
आंसू नहीं रोक पा रहे थे रोजर फेडरर, बार-बार तौलिए से पोछ रहे थे चेहरा


19 ग्रैंडस्‍लैम खिताब जीतने के बाद वे हेलेन विल्‍स मूडी के साथ संयुक्‍त रूप से चौथे स्‍थान पर हैं. मार्गरेट कोर्ट (24), सेरेना विलियम्‍स (23)और स्‍टेफी ग्राफ (22) ही इस मामले में उनसे आगे हैं. (एजेंसी से इनपुट)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com