NDTV Khabar

वर्ल्ड कप फ़ाइनल : पिस्टल में अमनप्रीत ने जीतू का पछाड़ा, संग्राम दाहिया ने जीता सिल्वर

भारत के नंबर - 1 पिस्टल शूटर जीतू राय सातवें नंबर पर रहे. जीतू राय ने हिना सिद्धू के साथ टूर्नामेंट के पहले दिन  10 मीटर एयर पिस्टल के मिक्स्ड इवेंट का गोल्ड मेडल जीता था. 

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वर्ल्ड कप फ़ाइनल : पिस्टल में अमनप्रीत ने जीतू का पछाड़ा, संग्राम दाहिया ने जीता सिल्वर

फोटो में पीछे चश्मा पहने हैं संग्राम दाहिया (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. शूटिंग प्रतियोगिता में आज भारत ने दो मेडल जीते
  2. अब तक भारत ने तीन मेडल जीते हैं.
  3. अमनप्रीत और दाहिया ने आज मेडल जीता.
नई दिल्ली: दिल्ली में चल रही शूटिंग के वर्ल्ड कप फ़ाइनल में शुक्रवार को भारत को तीसरा पदक हासिल हुआ. 50 मीटर एयर पिस्टल प्रतियोगिता में पंजाब के अमनप्रीत सिंह ने कांस्य पदक जीत लिया. भारत के नंबर - 1 पिस्टल शूटर जीतू राय सातवें नंबर पर रहे. जीतू राय ने हिना सिद्धू के साथ टूर्नामेंट के पहले दिन  10 मीटर एयर पिस्टल के मिक्स्ड इवेंट का गोल्ड मेडल जीता था. शूटिंग वर्ल्ड कप फ़ाइनल की डबल ट्रैप प्रतियोगिता में दिल्ली के संग्राम दाहिया ने सिल्वर मेडल जीतकर भारत को टूर्नामेंट में तीसरा पदक दिलवाया. अंकुर मित्तल चौथे नंबर पर रहे. चीन के हू बिनयान ने स्वर्ण जीता जबकि कांस्य पदक इटली के नाम हुआ. 28 साल के दिल्ली के संग्राम दाहिया कहते रहे हैं कि उन्होंने राज्यवर्धन राठौड़ के एथेंस ओलिंपिक्स में रजत पदक से प्रेरित होकर शूटिंग करना शुरू किया. 

यह भी पढ़ें : निशानेबाजी : फाइनल में नहीं पहुंच पाये भारत के जीतू राय

पंजाब के अमनप्रीत सिंह ने फ़ाइनल में 202.2 अंकों के साथ कांस्य पदक अपने नाम किया. जीतू राय के 123.2 स्कोर के साथ पहले ही फ़ाइनल दौर में नॉक आउट हो गए.
 
amanpreet shooter
(शूटर अमनप्रीत)

प्रतियोगिता का स्वर्ण सर्बिया और सिल्वर यूक्रेन के नाम हुआ. सर्बिया के मिकेच डामिर ने 229.3 प्वाइंट के साथ गोल्ड पर कब्ज़ा जमाया, यूक्रेन के ओमलेचुक ओले ने 228.0 के साथ सिल्वर जीता और अमनप्रीक सिंह ने 202.2 अंकों के साथ पोडियम में तीसरे नंबर पर रहे. 
VIDEO: भारतीय शूटरों से खास बातचीत

इससे पहले 30 साल के जलंधर के अमनप्रीत इसी साल दिल्ली में हुए वर्ल्ड कप में सिल्वर मेडल जीत चुके हैं. इत्तिफ़ाकन दिल्ली में इसी साल मार्च में हुए उस वर्ल्ड कप का गोल्ड जीतू राय के नाम रहा था. अमनप्रीत का ये पहला वर्ल्ड कप फ़ाइनल टूर्नामेंट है जिसमें ये उनका अब तक का बेहतरीन प्रदर्शन माना जा सकता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement