उधार लेकर करनी पड़ी स्वीमिंग, विश्व पैरा चैंपियनशिप में कीर्तिमान रच देश का गौरव बढ़ाया

उधार लेकर करनी पड़ी स्वीमिंग, विश्व पैरा चैंपियनशिप में कीर्तिमान रच देश का गौरव बढ़ाया

कंचनमाला पांडे ने विश्‍व पारा तैराकी चैंपियनशिप में जीता गोल्‍ड

खास बातें

  • कंचनमाला पांडे ब्‍लाइंड पैरा स्‍वीमर है
  • कंचनमाला पांडे की पैरालंपिक कमेटी ने इनकी कोई मदद नहीं की थी
  • ब्रेस्टस्ट्रोक और बैकस्ट्रोक वर्ग में 100 मीटर में पांचवे स्थान पर रहीं.
मैक्सिको:

ब्‍लाइंड पैरा स्‍वीमर कंचनमाला पांडे ने मैक्सिको में पिछले साल हुई विश्व पैरा तैराकी चैंपियनशिप में गोल्ड जीतकर इतिहास रचा. वो ऐसा करने वाली पहली भारतीय महिला तैराक हैं. कंचनमाला पांडे नागपुर की रहने वाली हैं. गोल्ड जीतने से कुछ वक्त पहले ही वो सुर्खियों में आई थीं. 

कंचनमाला पांडे वहीं एक पैरा स्विमर है वो उस वक्त मीडिया की सुर्खियां बनीं जब इन्‍हें भारत के बाहर पैसे उधार लेकर स्विमिंग करनी पड़ी थी और भारत की पैरालंपिक कमेटी ने इनकी कोई मदद नहीं की.

उसी टूर्नामेंट में एक दूसरे स्थान पर रही थी और वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए इन्होंने क्वालीफाई किया था अब यह वर्ल्ड पैरा स्विमिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाली भारत की पहली महिला पैरा स्विमर बन गई हैं. 

26 साल की कंचनमाला ने एस-11 वर्ग में 200 मीटर मेडले में गोल्‍ड मेडल जीता लेकिन ब्रेस्टस्ट्रोक और बैकस्ट्रोक वर्ग में 100 मीटर में पांचवे स्थान पर रहीं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com