NDTV Khabar

एरिक्सन ने देश में पहली बार किया 5 G तकनीक का प्रदर्शन

भारत में नवीनतम अन्वेषण लाने और 5जी पारिस्थितिकी तंत्र तैयार करने के उद्देश्य से संचार प्रौद्योगिकी की प्रमुख वैश्विक कंपनी एरिक्सन ने शुक्रवार को पहली बार 5जी का सजीव एंड-टू-एंड प्रदर्शन किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एरिक्सन ने देश में पहली बार किया 5 G तकनीक का प्रदर्शन

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

भारत में नवीनतम अन्वेषण लाने और 5जी पारिस्थितिकी तंत्र तैयार करने के उद्देश्य से संचार प्रौद्योगिकी की प्रमुख वैश्विक कंपनी एरिक्सन ने शुक्रवार को पहली बार 5जी का सजीव एंड-टू-एंड प्रदर्शन किया. यह प्रदर्शन एरिक्सन के 5जी टेस्ट बेड और 5जी न्यू रेडियो (एनआर) के द्वारा किया गया, जिसमें बेहद कम लेटेंसी 3 मिली सेकेंड के साथ 5.7 गीगा बाइट प्रति सेकेंड की स्पीड प्राप्त हुई. 

एरिक्सन के नवीनतम अध्ययन के मुताबिक, 5जी प्रौद्योगिकी में भारतीय दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के लिए साल 2026 तक 27.3 अरब राजस्व पैदा करने की क्षमता है. एरिक्सन के दक्षिण-पूर्व एशिया, प्रशांत क्षेत्र और भारत के बाजारों के प्रमुख नुनजियो मिर्तिलो ने बताया, "हम देश में पहले 5जी प्रदर्शन के आधार पर भारतीय बाजार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत कर रहे हैं. सरकार ने 2020 तक देश में 5जी नेटवर्क को लाने की योजना बनाई है, एक मजबूत 5जी पारिस्थितिक तंत्र के निर्माण की दिशा में इस प्रदर्शन का आयोजन किया गया."

यह भी पढ़ें - 2020 तक टीवी के आधे दर्शक मोबाइल पर देखेंगे कार्यक्रम : एरिक्सन


एरिक्सन इंडिया के प्रबंध निदेशक नितिन बंसल ने कहा, "दूरसंचार नेटवर्क में 5जी नए स्तर के प्रदर्शन और विशेषताओं को लेकर आएगी. सेवा प्रदाताओं के लिए राजस्व के नए प्रवाह खुलेंगे. 5जी 2026 तक भारती य ऑपरेटरों के लिए 43 फीसदी वृद्धिशील राजस्व उत्पन्न करने की क्षमता है."

टिप्पणियां

VIDEO : वनप्लस 5टी का फर्स्ट लुक

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement