घर बैठे OTP से ऐसे होगा मोबाइल नंबर आधार से वेरिफाई

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, री-वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को आसान किया जाएगा और मोबाइल यूजर्स घर बैठे ही मोबाइल नंबर आधार से वेरिफाइ करा पाएंगे.

घर बैठे OTP से ऐसे होगा मोबाइल नंबर आधार से वेरिफाई

सरकार सिम कार्ड को आधार से वेरिफाई करने की प्रक्रिया को आसान करने जा रही है.

खास बातें

  • सरकार सिम कार्ड को आधार से वेरिफाई करने की प्रक्रिया करने जा रही है आसान.
  • मोबाइल यूजर्स घर बैठे ही मोबाइल नंबर आधार से वेरिफाइ करा पाएंगे.
  • इसका फायदा वरिष्ठ नागरिकों, बीमार व्यक्तियों और दिव्यांगों को मिलेगा.
नई दिल्ली:

सरकार सिम कार्ड को आधार से वेरिफाई करने की प्रक्रिया को आसान करने जा रही है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, री-वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को आसान किया जाएगा और मोबाइल यूजर्स घर बैठे ही मोबाइल नंबर आधार से वेरिफाइ करा पाएंगे. मोबाइल नंबर से आधार कार्ड लिंक कराने की प्रक्रिया को आसान करने के लिए सरकार वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) और आपके घर पर री-वेरिफिकेशन की सुविधा दे सकती है. अभी तक मोबाइल नंबर को आधार से लिंक कराने के लिए एनरॉलमेंट सेंटर जाना होता था.

पढ़ें- Aadhaar कार्ड डाउनलोड करना और अपडेट करना हुआ आसान, जानें तरीका

मोबाइल कंपनियों को निर्देश दिया जाएगा कि वह री-वेरिफिकेशन मोबाइल यूजर के घर पर उपलब्ध कराएं. इसका फायदा वरिष्ठ नागरिकों, बीमार व्यक्तियों और दिव्यांगों को मिलेगा.मोबाइल कंपनियों को कहा गया है कि वह ऑनलाइन वेरिफिकेशन के लिए पूरा तंत्र तैयार करें, जिससे यूजर्स को परेशानी न हो. नया मोबाइल नंबर लेने के लिए आधार कार्ड पहले से अनिवार्य है, लेकिन सरकार ने पुराने यूजर्स को भी अपना सिम आधार से लिंक करने को कहा है.

पढ़ें- कहीं आपका भी आधार कार्ड बंद तो नहीं हो गया है, ऐसे करें आसानी से पता​
 

aadhaar card

इसके अलावा मौजूदा मोबाइल ग्राहकों के लिए आधार ओटीपी आधारित पुन: सत्यापन की सुविधा भी शुरू की गई है. टेलिकॉम ऑपरेटर्स को निर्देश दिया गया है कि वे मोबाइल ग्राहकों के लिए ओटीपी आधारित पुन: सत्यापन की प्रक्रिया शुरु करें. ऑपरेटर्स को इसके लिए एसएमएस या आईवीआरएस या उनके मोबाइल ऐप का इस्तेमाल करने को कहा गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पढ़ें- पैन कार्ड में कुछ गलती है...? ठीक करवाने के लिए ये स्टेप करें फॉलो

सूत्र ने कहा कि इसका आशय है कि यदि एक मोबाइल नंबर आधार डेटाबेस में पंजीकृत है, तो ओटीपी तरीके का इस्तेमाल उस नंबर के पुन: सत्यापन के अलावा संबंधित ग्राहक के अन्य नंबरों के सत्यापन के लिए भी किया जा सकता है. सूत्र ने बताया कि करीब 50 करोड मोबाइल नंबर पहले ही आधार डेटाबेस में रजिस्टर्ड हैं. इन सभी मामलों में पुन: सत्यापन के लिए ओटीपी का इस्तेमाल किया जा सकता है.

देखें वीडियो- आधार कार्ड ऑनलाइन अपडेट करने का तरीका