NDTV Khabar

Xiaomi Redmi 7 का रिव्यू

Xiaomi Redmi 7 एक ऑल-राउंडर स्मार्टफोन है जो हर किसी को पसंद आ सकता है। Xiaomi ब्रांड का यह फोन Samsung, Honor, Realme और अन्य प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के स्मार्टफोन से आगे है या नहीं?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Xiaomi Redmi 7 का रिव्यू

खास बातें

  1. Redmi 7 एक बड़ा स्मार्टफोन है और वज़नदार भी
  2. Redmi 7 में कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 का इस्तेमाल
  3. रेडमी 7 की कीमत 7,999 रुपये से शुरू

भारत में Xiaomi की Redmi 6 सीरीज़ को लॉन्च हुए सात महीने से अधिक का समय बीत चुका है। अब वाटरड्रॉप नॉच और ग्रेडिएंट फिनिश वाले स्मार्टफोन पॉपुलर हो रहे हैं, इस वज़ह से प्रतिद्धंदी कंपनियां अपने नए स्मार्टफोन पर काफी काम कर रही हैं। सिर्फ Xiaomi ही एक मात्र ऐसी कंपनी नहीं है जो कम कीमत में बेहतर स्पेसिफिकेशन और फीचर्स वाले स्मार्टफोन के लिए मार्केट में लड़ रही है। Samsung की नई ए-सीरीज़ और एम-सीरीज़ भी कम कीमत में कड़ी टक्कर देती है। लॉन्च के बाद से सैमसंग की नई सीरीज़ की बिक्री काफी अच्छी रही है। Xiaomi ने अब 8,000 रुपये से कम के प्राइस सेगमेंट में एक नए स्मार्टफोन को उतारा है।

Xiaomi Redmi 7 एक ऑल-राउंडर स्मार्टफोन है जो हर किसी को पसंद आ सकता है। इसमें हर वो बात है जो ग्राहक को चाहिए होती है। मज़ेदार बात तो यह है कि Xiaomi ने इसके कंपेनियन मॉडल Redmi 7 Pro या Redmi 7A को अभी तक लॉन्च नहीं किया है। इस रिव्यू में हमने रेडमी 7 (Redmi 7) पर अपना ध्यान केंद्रित किया है, आइए जानते हैं कि शाओमी ब्रांड का यह फोन Samsung, Honor, Realme और अन्य प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के स्मार्टफोन से आगे है या नहीं?

Redmi 7 का डिज़ाइन


Xiaomi के ज़्यादातर पुराने स्मार्टफोन का लुक एक समान लगता था लेकिन Redmi 7 को नए डिज़ाइन के साथ मार्केट में उतारा गया है। रेडमी 7 में शाओमी ने रेडमी 6 में दिए मेटालिक लुक का इस्तेमाल नहीं किया है। इन दिनों के ट्रेंड में बने रहते हुए मल्टी-कलर ग्लॉसी प्लास्टिक पर भरोसा जताया गया है। Redmi 7 के तीन कलर वेरिएंट हैं- इक्लिप्स ब्लैक, लूनर रेड और कॉमेट ब्लू।

हमारे पास रिव्यू के लिए इक्लिप्स ब्लैक कलर वेरिएंट मौजूद है। बता दें कि लूनर रेड और कॉमेट ब्लू दोनों ही स्मार्टफोन ग्रेडिएंट रियर पैनल के साथ आते हैं, Xiaomi ने इसे ऑरा स्मोक डिज़ाइन का नाम दिया है। कॉमेट ब्लू वेरिएंट के पिछले हिस्से पर डार्क पर्पल और ब्राइट ब्लू रंग का ग्रेडिएंट फिनिश है। दूसरी ओर लूनर रेड वेरिएंट में बैक पैनल का ऊपरी हिस्सा ब्लैक और निचला हिस्सा रेड कलर में है।

अगर आपको इन दोनों वेरिएंट में दिए ग्रेडिएंट फिनिश पसंद नहीं है तो आप रिटेल बॉक्स में आने वाले डार्क ट्रांसलूसेंट प्लास्टिक कवर का इस्तेमाल कर सकते हैं। आजकल स्मार्टफोन को बड़े डिस्प्ले पैनल के साथ उतारा जा रहा है और इसमें Redmi 7 का नाम भी शामिल है। याद करा दें कि Redmi 6 में 5.45 इंच का डिस्प्ले था तो वहीं अब रेडमी 7 को 6.26 इंच की स्क्रीन के साथ उतारा गया है।

IMG

सभी डाइमेंशन में रेडमी 6 की तुलना में Redmi 7 एक बड़ा स्मार्टफोन है और वज़नदार भी। रेडमी 7 का वज़न 180 ग्राम और मोटाई 8.47 मिलीमीटर है, फोन को जेब में डालने के बाद चलने पर आपको भारीपन का एहसास होगा। सिर्फ हाथ के अंगूठे से स्क्रीन के हर किनारे तक पहुंचना आसान नहीं है। कम कीमत वाला Redmi 7 मॉर्डन 'डॉट' नॉच के साथ आता है लेकिन अगर आप बिना बेज़ल वाले फोन को ढूंढ रहे हैं तो यह आपके उम्मीद के हिसाब से फिट नहीं होता है।

अच्छी बात यह है कि शाओमी (Xiaomi) ने Redmi 7 में कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 का इस्तेमाल किया है। फोन का बैक पैनल मोल्डेड प्लास्टिक से बना है जिसे नैनो-स्प्रे से फिनिश किया गया है। हमारे पास रिव्यू के लिए मौजूद यूनिट ग्लॉसी और ज्यादा रिफ्लेक्टिव है। फोन को रिटेल बॉक्स से बाहर निकालने के कुछ ही पलों में इसपर उंगलियों के निशान और धब्बे पड़ गए थे।

हमने नोटिस किया कि फोन के पिछले हिस्से पर धूल और फाइबर के छोटे कण चिपक जाते हैं, ऐसे में Redmi 7 को नया जैसा रख पाना असंभव है। एक सप्ताह से भी कम समय तक सावधानी से स्मार्टफोन को इस्तेमाल करने के बाद हमने फोन पर स्क्रैच के निशान देखे। ग्लॉसी रियर पैनल मैट प्लास्टिक फ्रेम से बने एज़ पर आकर मिलता है लेकिन यह पूर्णतः रूप से स्मूथ नहीं है।

फोन के पिछले हिस्से पर दिया फिंगरप्रिंट सेंसर और दाहिनी ओर दिए पावर और वॉल्यूम बटन तक हाथ आसानी से पहुंच जाते हैं। फ्रंट कैमरे के ठीक ऊपर पतले ईयरपीस को जगह मिली है और सेंसर छिपे हुए हैं। फोन के निचले बॉर्डर पर एक छोटी एलईडी लाइट दी गई है जो फोन के चार्जिंग होने पर जलती है और बैटरी फुल होने पर बंद हो जाती है।

बैक पैनल पर दिया डुअल-कैमरा मॉड्यूल दिखने में थोड़ा छोटा लगता है। फोन के ऊपरी हिस्से में आपको 3.5 मिलीमीटर हेडफोन जैक और एप्लायंसेज को कंट्रोल करने के लिए इंफ्रारेड एमिटर मिलेगा। फोन के बायीं ओर ऊपर की तरफ सिंगल ट्रे है जिसमें दो नैनो-सिम और माइक्रोएसडी कार्ड को लगाया जा सकता है जो कि काफी अच्छी बात है।

फोन के निचले हिस्से में दो ग्रिल हैं लेकिन इसमें से एक स्पीकर है। यूएसबी टाइप-सी पोर्ट होता तो अच्छा था। लेकिन कीमत को देखते हुए माइक्रो-यूएसबी पोर्ट से कोई शिकायत नहीं है। अगर आपको बड़े स्मार्टफोन पसंद आते हैं तो आपको रेडमी 6 की तुलना में रेडमी 7 (Redmi 7) आकर्षक लगेगा,  गौर करने वाली बात यह है कि दोनों की शुरुआती कीमत एक समान है।

IMG

Redmi 7 के स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर

रेडमी 7 में 1.8 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 632 प्रोसेसर का इस्तेमाल हुआ है यानी आपको इस स्मार्टफोन में ज़्यादा सक्षम चिपसेट मिलेगा। याद करा दें कि Redmi 6 मीडियाटेक हीलियो पी22 प्रोसेसर और रेडमी 6 प्रो (Redmi 6 Pro) स्नैपड्रैगन 625 प्रोसेसर से लैस है। Redmi 7 में ग्राफिक्स के लिए एड्रेनो 506 जीपीयू का इस्तेमाल किया गया है।

Xiaomi ने भारत में Redmi 7 के दो वेरिएंट उतारे हैं, दोनों ही वेरिएंट 32 जीबी स्टोरेज से लैस हैं। अंतर केवल इतना है कि बेस वेरिएंट 2 जीबी रैम के साथ आता है जिसकी भारतीय बाजार में कीमत 7,999 रुपये है। वहीं, इसके 3 जीबी रैम वेरिएंट की कीमत 8,999 रुपये है। कंपनी की यह रणनीति थोड़ी अटपटी लगी। अगर आप अपने बजट को 1,000 रुपये बढ़ा सकते हैं तो Redmi Note 7 (रिव्यू) स्मार्टफोन मिल जाएगा। वहीं, Redmi 6 के दोनों ही वेरिएंट 3 जीबी रैम वाले थे। एक में 32 जीबी स्टोरेज थी जिसका दाम 7,999 रुपये है, 1,500 रुपये ज़्यादा खर्चकर 64 जीबी स्टोरेज वाला वेरिएंट मिल जाएगा।

Redmi 7 में 6.26 इंच एचडी+ (720x1520 पिक्सल) डिस्प्ले है, इसका आस्पेक्ट रेशियो 19:9 है। शाओमी ने कहा कि कम कीमत वाले इस फोन में आपको 84 प्रतिशत एनटीएससी कलर गेमट मिलेगा। रेडमी 6 में 3,000 एमएएच की बैटरी दी गई थी लेकिन इसके अपग्रेड वर्जन Redmi 7 में आपको 4,000 एमएएच की बैटरी मिलेगी लेकिन यह क्वालकॉम क्विक चार्ज सपोर्ट से लैस नहीं है। फोन के साथ 10 वॉट का चार्जर मिलेगा।

Redmi 7 में दोनों सिम स्लॉट में 4जी और वीओएलटीई सपोर्ट है। इसके अलावा फोन में सिंगल-बैंड वाई-फाई 802.11एन, ब्लूटूथ वर्जन 4.2 और जीपीएस सपोर्ट शामिल है। एक्सेलेरोमीटर, एंबियंट लाइट सेंसर, इलेक्ट्रॉनिक कंपास सेंसर तो फोन का हिस्सा है लेकिन रेडमी 7 में जायरोस्कोप सेंसर नहीं दिया गया है। हमने पाया कि यह फोन Widevine L3 डीआरएम सपोर्ट करता है ना कि फुल-एचडी वीडियो स्ट्रीमिंग के लिए एल1 को।

IMG


हमारा रिव्यू यूनिट एंड्रॉयड 9 पाई (Android 9 Pie) पर आधारित मीयूआई 10.2 (MIUI 10.2) पर चल रहा है। शुरुआती सेटअप प्रोसेस में आपको लॉक स्क्रीन पर वॉलपेपर कैरोसेल को डिसेबल करने का विकल्प मिलेगा। हर बार जब आप फोन को अनलॉक करेंगे आपको एक अलग चीज दिखाई देगी। मजे़दार बात तो यह है कि सैमसंग के लेटेस्ट स्मार्टफोन भी इसी प्लेटफॉर्म से लैस हैं जो ग्लांस नाम के थर्ड पार्टी ऐप से पावर्ड है।

Samsung Galaxy M20 को रिव्यू करते वक्त हमें कुछ ब्लेटेंट विज्ञापन और बेहतर-डिज़ाइन वाले स्निपेट्स देखने को मिले थे लेकिन यह बहुत ही परेशान करने वाले थे। डिसेबल करने के बाद लॉक स्क्रीन पर एक स्थाई आइकन नज़र आएगा जो कि इसे इनेबल करने का एक विकल्प है।

MIUI में आपको ऐप ड्राअर का विकल्प नहीं मिलता इसका मतलब सभी आइकन आपको होम स्क्रीन पर मिलेंगे। अगर आप होम स्क्रीन पर दाहिनी तरफ से स्वाइप करेंगे तो ऐप वॉल्ट पेज खुलेगा। यहां आपको रिकमंडेड ऐप्स, कंटेस्ट और ऐप इंटीग्रेशन के विज्ञापन देखने को मिलेंगे। सेकेंड स्पेस फीचर प्राइवेट ऐप्स और डेटा के लिए एक अलग प्रोफाइल है जिसे आप कभी भी डिलीट और रिसेट कर सकते हैं। केवल मैसेजर ही नहीं, डुअल ऐप्स की मदद से आप किसी भी ऐप के दो प्रतिरूप क्रिएट कर सकते हैं।  

हमने नोटिस किया कि गूगल प्ले स्टोर से किसी भी ऐप को इंस्टॉल करते समय विज्ञापन के साथ ऐप चेकर स्क्रीन पॉप-अप हो जाती है। डिफॉल्ट फेसमोजी कीबोर्ड में आपको एएससीआईआई टेक्स्ट इफेक्ट, इमोज़ी, GIFs, स्टीकर्स और थीम्स मिलेंगी। इसके अलावा मी ऐप स्टोर और कई फर्स्ट पार्टी ऐप्स फोन में मौजूद हैं।

बिना किसी अकाउंट को सेटअप किए म्यूज़िक ऐप की मदद से आप हंगामा से सॉन्ग को स्ट्रीम कर सकते हैं। सिक्योरिटी ऐप में आपको वायरस स्कैनर और कुछ प्राइवेसी टूल, गेम स्पीड बूस्टर, बैटरी और स्टोरेज कंट्रोल मिलेंगे जो आमतौर पर सेटिंग्स ऐप में होते हैं।  

Redmi 7 की परफॉर्मेंस, बैटरी लाइफ और कैमरा

हमें रिव्यू के लिए रेडमी 7 का 3 जीबी रैम वेरिएंट मिला है तो हो सकता है कि हमारा अनुभव उन लोगों से बेहतर हो जो इसका बेस वेरिएंट इस्तेमाल करें। Redmi 7 का बेस वेरिएंट 3 जीबी रैम वेरिएंट की तुलना में थोड़ा सस्ता है। मीयूआई (MIUI) में विज्ञापन के अलावा Redmi 7 को इस्तेमाल करने आसान है। कभी-कभी कॉलिंग के दौरान और ऐप स्विचर में स्क्रॉल करते समय फोन थोड़ा धीमा हो जाता था। फोन में एक अजीब सी समस्या भी है, कभी-कभी नोटिफिकेशन झट से गायब हो जाता है जिस वज़ह से इसे पढ़ पाना असंभव है। स्क्रीन थोड़ी रिफ्लेक्टिव है लेकिन इसकी क्वालिटी अच्छी है।

स्क्रीन बड़ी होने की वज़ह से वीडियो और गेम्स अच्छे से दिखते हैं। फोन में कलर्स और व्यूइंग एंगल सही से दिखाई देते हैं लेकिन सूरज की रोशनी में स्क्रीन पर पढ़ पाने में थोड़ी मुश्किल होती है। हम स्पीकर से काफी प्रभावित हुए, यह बिना डिस्टॉर्शन के तेज़ आवाज़ देता है। लेकिन आपको ज्यादा बास नहीं मिलेगा। फोन के साथ आपको हेडसेट भी नहीं मिलेगा।

गूगल प्ले स्टोर पर आपको दिखेगा कि Asphalt 9: Legends फोन के साथ कंपैटिबल नहीं है तो हम इसे टेस्ट नहीं कर पाए। PUBG Mobile डिफॉल्ट में मीडियम सेटिंग्स पर चला। गेम खेलने का अनुभव स्मूथ था। थोड़ी देर के बाद हमने नोटिस किया कि फोन का ऊपरी हिस्सा थोड़ा गर्म हो जाता है।

Redmi 7 में जान फूंकने के लिए 4,000 एमएएच की बैटरी दी गई है। फोन की बैटरी ने हमें बहुत प्रभावित किया, हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में फोन ने 17 घंटे और 9 मिनट तक साथ दिया। हमने फोन में वेब ब्राउजिंग, फोटोग्राफी, गेमिंग और वीडियो स्ट्रीमिंग करके देखी और दिन के अंत में तकरीबन 30 प्रतिशत बैटरी शेष बची थी।

कैमरा सेटअप की बात करें तो Redmi 7 में फोटोग्राफी के लिए दो रियर कैमरे दिए गए हैं, 12 मेगापिक्सल का प्राइमरी सेंसर और 2 मेगापिक्सल का सेकेंडरी सेंसर। यह एक्सट्रा ज़ूम या वाइड-एंगल लेंस के साथ नहीं आता लेकिन कैमरा ऐप में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) सीन को डिटेक्ट कर लेता है और कैमरा सेटिंग ऑटोमेटिकली एडजस्ट हो जाती है।

सामान्य प्रो और पोर्टेट मोड के अलावा फोटो और वीडियो मोड्स में आपको टिल्ट-शिफ्ट, ब्यूटीफिकेशन, ग्रुप सेल्फी, टाइम-लैप्स और गूगल लेंस जैसे अतिरिक्त विकल्प मिलेंगे। आप शटर बटन पर टैप और होल्ड करके बर्स्ट शॉट ले सकेंगे, इसके अलावा एवरेज, सेंटर-वेटिड और स्पॉट मीटरिंग के बीच चुनाव करने के लिए सेटिंग ऑप्शन मिलेगा।

img
img
img
img

हमें रेडमी 7 से लिए कैमरा सैंपल पसंद आए। सूरज़ की रोशनी में ली गई तस्वीरों में शार्प फोकस की झलक देखने को मिली। ब्राइट लाइट में रेडमी 7 एक्सपोज़र और परछाई को अच्छे से हैंडल कर लेता है। हमें उम्मीद थी कि फोटो ज़्यादा वाइब्रेंट और पंची कलर्स के साथ आएंगे।

हम रेडमी 7 से लिए गए ब्राइट लो-लाइट शॉट्स को देखकर आश्चर्यचकित हो गए। तस्वीरों में कलर्स भी अच्छे से कैप्चर हुए। हालांकि, इन तस्वीरों में काफी नॉयज़ थी और ज़ूम इन करके देखने पर हमें ये तस्वीरें अच्छी नहीं लगीं। इसके अलावा आपको मोशन ब्लर की भी झलक तस्वीरों में देखने को मिल जाएगी।


यह फोन 1080पी रिजॉल्यूशन वाले वीडियो को 60 फ्रेम प्रति सेकेंड पर रिकॉर्ड करने में सक्षम है। हमने जो वीडियो रिकॉर्ड किए, वह हमें डल लगे, साथ ही वीडियो में जर्क का भी एहसास हुआ। रात में रिकॉर्ड किए गए फुल-एचडी वीडियो में डिटेल सही से रिकॉर्ड नहीं होते हैं। 8 मेगापिक्सल वाले फ्रंट कैमरे से ली गई तस्वीरों में ब्यूटीफिकेशन अपने आप अप्लाई हो जाता है और यह बहुत आक्रामक लगता है।

टिप्पणियां


हमारा फैसला
Xiaomi ने रेडमी सीरीज़ को बेहतर बनाने के लिए बहुत कुछ किया है। नए रेडमी 7 (Redmi 7) में बेहतर फीचर्स और स्पेसिफिकेशन हैं और यह Redmi 6 की तुलना में ज्यादा मॉडर्न लुक के साथ आता है। कुछ बातें जो हमें पसंद नहीं आईं। शुरुआती वेरिएंट में कम रैम और 64 जीबी स्टोरेज वेरिएंट का ना होना।

रेडमी नोट 7 (Redmi Note 7) और Redmi Y3), दोनों की शुरुआती कीमत 9,999 रुपये है, मतलब रेडमी 7 के टॉप वेरिएंट से मात्र 1,000 रुपये अधिक। ऐसे में कई ग्राहक असमंजस की स्थिति में रहेंगे। भारत में Redmi 7 की सीधी भिड़ंत Realme 3 (रिव्यू), Samsung Galaxy M10 (रिव्यू) और  Asus Zenfone Max M2 (रिव्यू) या ZenFone Max Pro M1  से होती है। कुल मिलाकर इस कीमत में फीचर्स और स्पेसिफिकेशन की वज़ह से शाओमी के इस फोन की दावेदारी ज़्यादा मज़बूत लगती है। लेकिन फोन में सॉफ्टवेयर अनुभव खास तौर पर विज्ञापन लोगों को काफी निराश कर सकता है।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement