'महाभारत' में 'अर्जुन' का रोल निभाने वाले फिरोज खान का खुलासा, इस वजह से नाम बदलकर रख लिया था अर्जुन

'महाभारत (Mahabharat)' में 'अर्जुन' का किरदार निभाने वाले एक्टर फिरोज खान (Firoz Khan) ने किया खुलासा, बताया क्यों बदल लिया था अपना नाम.

'महाभारत' में 'अर्जुन' का रोल निभाने वाले फिरोज खान का खुलासा, इस वजह से नाम बदलकर रख लिया था अर्जुन

फिरोज खान (Firoz Khan) ने इंटरव्यू में किया खुलासा, क्यों बदला अपना नाम

खास बातें

  • 'महाभारत' में 'अर्जुन' का किरदार निभाने वाले एक्टर ने दिया इंटरव्यू
  • कहा- फिरोज खान से बदलकर क्यूं रख लिया अपना नाम अर्जुन
  • 'महाभारत' का हो रहा है दोबारा प्रसारण
नई दिल्ली:

लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान टेलीविजन पर दोबारा अपने समय में सुपरहिट पौराणिक धारावाहिक 'महाभारत (Mahabharat)' प्रसारित किया जा रहा है. दर्शकों को 'महाभारत' खूब पसंद भी आ रहा है. टीआरपी की लिस्ट में 'रामायण' के बाद 'महाभारत' दूसरे नंबर पर काबिज रहा. लेकिन हाल ही में पौराणिक धारावाहिक 'महाभारत' में 'अर्जुन' का किरदार निभाने वाले एक्टर फिरोज खान (Firoz Khan) ने एक इंटरव्यू दिया. इस इंटरव्यू में एक्टर ने ये भी खुलासा किया कि आखिरकार उन्होंने अपना नाम बदलकर 'अर्जुन' क्यों रख लिया.

Newsbeep

दरअसल, फिरोज खान (Firoz Khan) ने एचटी को दिए इंटरव्यू में खुलासा किया, "मैं ऑडिशन देने गया तो मैंने वहां दीपक पाराशर, राज बब्बर और गोविंदा जैसे कलाकारों को देखा. ऑडिशंस चल रहे थे, गोविंदा (Govinda) ने मुझे दो पेज का हिंदी डॉयलाग देकर शॉट देने के लिए कहा. मैंने उनसे कहा कि आप हिंदी में यह डॉयलाग पढ़ दीजिए, मैं इन्हें अंग्रेजी में लिख लूंगा." फिरोज खान (Firoz Khan ) ने बताया कि उन्हें 'अर्जुन (Arjun)' के किरदार के लिए चुन लिया गया था, हालांकि, वह किरदार पहले जैकी श्रॉफ द्वारा निभाया जाने वाला था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


फिरोज खान (Firoz Khan) ने बताया कि उन्होंने अपना नाम क्यों बदला. एक्टर ने कहा, "जब भी मैं प्रोड्यूसर को फोन करता था, तो वे सोचते थे कि मैं फिरोज खान (Feroz Khan) हूं. लेकिन जब मैं उनको समझाता था कि मैं कौन हूं, तो वो मुझसे दोबारा फोन करने के लिए कहते थे, इससे मुझे बहुत अपमानित महसूस होता था. चोपड़ा साहब और डॉक्टर रजा ने सिफारिश की कि मुझे अपना नाम बदलकर अर्जुन रख लेना चाहिए. इस नाम ने मुझे वह सब दिया, जिसके मैंने सपने देखे थे. बाद में मेरी मां भी मुझे अर्जुन कहकर बुलाने लगी थीं."