सुनील ग्रोवर ने पीएम मोदी के दीया जलाने वाली अपील पर यूं किया रिएक्ट, बोले-पटाखे मत जलाने लग जाना

सुनील ग्रोवर (Sunil Grover) ने पीएम मोदी (PM Modi) की अपील पर यह रिएक्शन दिया है. उनका ट्वीट खूब वायरल हो रहा है.

सुनील ग्रोवर ने पीएम मोदी के दीया जलाने वाली अपील पर यूं किया रिएक्ट, बोले-पटाखे मत जलाने लग जाना

सुनील ग्रोवर (Sunil Grover) का ट्वीट हुआ वायरल

खास बातें

  • सुनील ग्रोवर ने किया ट्वीट
  • पीएम मोदी के दीया जलाने वाली अपील पर किया रिएक्ट
  • फैन्स भी उनके ट्वीट पर रिएक्शन दे रहे हैं
नई दिल्ली:

कोरोनावायरस (Coronavirus) के कारण पूरे देश में दहशत का माहौल है. सरकार लगातार इस महामारी को रोकने की कोशिश में जुटी हुई है. पीएम मोदी (PM Modi) ने शुक्रवार को कोरोनावायरस के खिलाफ जंग को लेकर देशवासियों को एक वीडियो मैसेज दिया था. उन्होंने अपने मैसेज में 5 अप्रैल को रात 9 बजे मोमबत्ती और दीया जलाने का आह्वान किया था. पीएम मोदी की इस अपील सभी क्षेत्रों से जमकर रिएक्शन आ रहे हैं और सेलिब्रिटी लोगों से पीएम मोदी के संदेश को पालन करने के लिए कह रहे हैं. अब इस पर मशहूर कॉमेडियन और एक्टर सुनील ग्रोवर (Sunil Grover) का भी रिएक्शन आया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सुनील ग्रोवर (Sunil Grover) ने ट्वीट किया: सभी मिलकर रात 9 बजे 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, फ्लैश लाइट जलाएं. हम सभी एक हैं. और प्लीज सेलिब्रेशन के लिए लिए सड़क पर मत उतर जाना. पटाखे मत चलाने लग जाना." सुनील ग्रोवर अपनी कॉमेडी के लिए मशहूर हैं और अपने हर ट्वीट में इसका तड़का लगाते हैं. हमेशा की तरह उनका यह ट्वीट भी खूब वायरल हो रहा है. सुनील ग्रोवर जितने जबरदस्त कॉमेडियन हैं, उतने ही शानदार एक्टर भी हैं. बीते साल आई फिल्म 'भारत' में सुनील ग्रोवर ने अपना किरदार बखूबी निभाते हुए लोगों का खूब दिल जीता था. 

बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने वीडियो मैसेज में कहा था कि इस तरह हम दिखाएंगे कि पूरा देश एक है और कोई भी अकेला नहीं है. पीएम मोदी ने जनता से अपील की है कि किसी को घर से बाहर नहीं आना है, और सोशल डिस्टेंसिंग को कायम रखना है. यही नहीं, पीएम मोदी ने लक्ष्मण रेखा न लांघने का भी अनुरोध किया है. उन्होंने कहा कि उस प्रकाश में, उस रोशनी में, उस उजाले में, हम अपने मन में ये संकल्प करें कि हम अकेले नहीं हैं,  कोई भी अकेला नहीं है. 130 करोड़ देशवासी, एक ही संकल्प के साथ कृतसंकल्प हैं.