GDP में आई गिरावट तो तहसीन पूनावाला से यूजर ने पूछा 'आप PM होते तो क्या करते', मिला यह जवाब

तहसीन पूनावाला (Tehseen Poonawalla) से एक सोशल मीडिया यूजर ने सवाल किया कि अगर वह इस समय प्रधानमंत्री होते तो क्या करते. इस बात को लेकर तहसीन पूनावाला ने ट्वीट कर जवाब दिया है.

GDP में आई गिरावट तो तहसीन पूनावाला से यूजर ने पूछा 'आप PM होते तो क्या करते', मिला यह जवाब

तहसीन पूनावाला (Tehseen Poonawalla) ने यूजर को दिया जबरदस्त जवाब

खास बातें

  • तहसीन पूनावाला से यूजर ने किया सवाल
  • बिग बॉस कंटेस्टेंट से पूछा गया कि अगर वो पीएम होते तो क्या करते
  • तहसीन पूनावाला ने ट्वीट कर दिया जबरदस्त जवाब
नई दिल्ली:

भारत की जीडीपी (GDP) में चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में ही 23.9 फीसदी की गिरावट देखने को मिली. इस मामले को लेकर बॉलीवुड सेलिब्रिटीज और आम लोग भी लगातार सोशल मीडिया पर अपनी राय रख रहे हैं. जीडीपी को लेकर हाल ही में बिग बॉस कंटेस्टेंट तहसीन पूनावाला (Tehseen Poonawalla) से एक सोशल मीडिया यूजर ने सवाल किया कि अगर वह इस समय प्रधानमंत्री होते तो क्या करते. इस बात को लेकर तहसीन पूनावाला ने ट्वीट कर जवाब दिया है. बिग बॉस कंटेस्टेंट का यह ट्वीट खूब वायरल हो रहा है, साथ ही लोग इसपर जमकर कमेंट भी कर रहे हैं. 

तहसीन पूनावाला (Tehseen Poonawalla) से सोशल मीडिया यूजर ने सवाल किया कि अगर इस समय आप प्रधानमंत्री होते तो आप क्या करते? इस पर उन्होंने कहा, "इस्तीफा दे दिया होता. क्योंकि मैं अर्थव्यवस्था को संभाल नहीं सकता. मैंने नोटबंदी जैसी चीजें की थीं." बता दें कि जीडीपी को लेकर अनुराग कश्यप, चेतन भगत, शत्रुघ्न सिन्हा और शिरीष कुंदर जैसे कई कलाकारों ने भी ट्वीट किया. बता दें कि इसके अलावा तहसीन पूनावाला ने जीडीपी को लेकर और भी ट्वीट किये थे. अपने एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, "कोविड-19 महामारी के दौरान खराब प्रदर्शन किसी भी बहाने को उचित ठहरा सकती है. आदरणीय प्रधानमंत्री को अब निर्मला सीतारमण जी को बर्खास्त कर देना चाहिए."

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि तहसीन पूनावाला (Tehseen Poonawalla) अपने बेबाक विचारों के लिए खूब जाने जाते हैं. वह अकसर समसामयिक मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय पेश करते हैं. कई बार तहसीन पूनावाला का ट्वीट खूब वायरल भी होता है. वहीं, अर्थव्यवस्था की बात करें तो सांख्यिकी मंत्रालय ने अपने ताजा आंकलन रिपोर्ट में कहा है की लॉकडाऊन की वजह से आर्थिक गतिविधियां ठप्प पड़ गयीं जिस वजह से इस साल अप्रैल से जून की पहली तिमाही में अर्थव्यवस्था अप्रत्याशित 23.9% सिकुड़ गयी.