NDTV Khabar

Tennis: भारत के शीर्ष सिंगल्‍स खिलाड़ी प्रजनेश गुणेश्‍वरन का यह है वर्ष 2019 का लक्ष्‍य

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Tennis: भारत के शीर्ष सिंगल्‍स खिलाड़ी प्रजनेश गुणेश्‍वरन का यह है वर्ष 2019 का लक्ष्‍य

प्रतीकात्‍मक फोटो

खास बातें

  1. प्रजनेश ने इस साल दो चैलेंजर खिताब जीते
  2. इस समय विश्‍व में 107वें नंबर के खिलाड़ी हैं
  3. अगला लक्ष्‍य है शीर्ष 50 खिलाड़ि‍यों में जगह बनाना
चेन्नई:

टेनिस में भारत के शीर्ष एकल खिलाड़ी प्रजनेश गुणेश्वरन ने कहा है कि साल 2018 उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ वर्ष रहा और उनका अगला लक्ष्य विश्व रैंकिंग में शीर्ष 50 में आना है. इस वर्ष प्रजनेश ने दो चैलेंजर खिताब अपने नाम किए. 29 साल के इस खिलाड़ी ने कहा, ‘2018 मेरे लिए सर्वश्रेष्ठ साल रहा है. मैंने खुद को आगे बढ़ने के लिए अच्छा मंच दिया है और उम्मीद है कि ऐसा होगा.' बाएं हाथ के चेन्नई के इस खिलाड़ी की मौजूदा एटीपी रैंकिंग 107 है और उनकी प्राथमिकता अब अपनी रैंकिंग में सुधार करते हुए शीर्ष 100 में जगह बनाना है.

Tennis: महेश भूपति बोले, लिएंडर पेस का एशियाई खेलों से हटना कोई मुद्दा नहीं..

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि मैं शीर्ष 100 में आ जाऊंगा लेकिन अगर मैंने अच्छा प्रदर्शन किया तो मेरे पास विश्व में शीर्ष 50 में जगह बनाने का मौका होगा. मैं यह सुनिश्चित करने पर ज्यादा ध्यान दे रहा हूं कि टूर स्तर में ज्यादा खेलने का मौका मिले.'इटली के खिलाफ कोलकाता में फरवरी में खेले जाने वाले डेविस कप क्वालीफायर्स मुकाबले के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि भारतीय टीम कड़ी टक्कर देगी. उन्होंने कहा, ‘निश्चित तौर पर इटली की टीम काफी मजबूत है और हमारे लिए मुकाबला आसान नहीं होगा. उनकी टीम में छह खिलाड़ी शीर्ष 100 रैंकिंग में शामिल है. हमारे लिए फायदे की बात यह है कि हम घरेलू माहौल में खेलेंगे और मुकाबला ग्रास कोर्ट पर होगा.


टिप्पणियां

वीडियो: तेलंगाना में टूरिज्‍म को बढ़ावा देने पहुंचीं सानिया मिर्जा

गौरतलब है कि डेविस कप के बदले हुए प्रारूप के क्वालीफायर में भारत को एक और दो फरवरी को इटली की मजबूत टीम का सामना करना है. 'इस साल क्वार्टर फाइनल में हारने वाली चार टीमों में क्वालीफायर में जगह मिली है जिसमें इटली भी शामिल था. विश्व ग्रुप प्ले ऑफ में सर्बिया के खिलाफ शिकस्त झेलने वाले भारत ने एशिया-ओसियाना क्षेत्र में बेहतर डेविस कप रैंकिंग के कारण क्वालीफायर में जगह बनाई है. क्वालीफायर की 12 विजेता टीमें 18 टीमों के फाइनल में जगह बनाएंगी जो 18 से 24 नवंबर तक खेला जाएगा. इस साल सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली चार टीमें और दो वाइल्ड कार्ड धारक टीमें (अर्जेंटीना और ब्रिटेन) भी इस टूर्नामेंट का हिस्सा होंगी. (इनपुट: एजेंसी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली से सटे नोएडा में दूध का पैकेट चुराते CCTV कैमरे में कैद हुआ पुलिसवाला, देखें VIDEO

Advertisement