Australian Open 2021: नोवाक जोकोविच ने कारात्सेव को हराकर फाइनल में बनाई जगह

Australian Open: नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) ने ऑस्ट्रेलिया ओपन (Australian Open) के सेमीफाइनल में कारात्सेव को 6-3,6-4 और 6-2 से हराकर फाइनल में पहुंच गए हैं. ऑस्ट्रेलिया ओपन के इतिहास में 30 साल की उम्र के बाद 3 दफा ओपन के फाइनल में पहुंचने वाले जोकोविच पहले खिलाड़ी बने हैं. जोकोविच का 9वीं बार ऑस्ट्रेलियाई ओपन के फाइनल में पहुंचे हैं.

Australian Open 2021: नोवाक जोकोविच ने कारात्सेव को हराकर फाइनल में बनाई जगह

Australian Open 2021: नोवाक जोकोविच ने कारात्सेव को हराकर फाइनल में बनाई जगह

Australian Open: नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) ने ऑस्ट्रेलिया ओपन (Australian Open) के सेमीफाइनल में कारात्सेव को 6-3,6-4 और 6-2 से हराकर फाइनल में पहुंच गए हैं. ऑस्ट्रेलिया ओपन के इतिहास में 30 साल की उम्र के बाद 3 दफा ओपन के फाइनल में पहुंचने वाले जोकोविच पहले खिलाड़ी बने हैं. जोकोविच का 9वीं बार ऑस्ट्रेलियाई ओपन के फाइनल में पहुंचे हैं. दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने सीधे सेटों में जीत दर्ज करके गुरुवार को नौवीं बार आस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश किया लेकिन सेरेना विलियम्स सेमीफाइनल से आगे नहीं बढ़ पायी जिससे उनका 24वां ग्रैंडस्लैम खिताब जीतकर रिकार्ड बराबर करने का इंतजार भी बढ़ गया.

महिला वर्ग में नाओमी ओसाका और जेनिफर ब्राडी फाइनल में जगह बनाने में सफल रही जो शनिवार को खेला जाएगा. जोकोविच ने सेमीफाइनल में क्वालीफायर और विश्व में 114वें नंबर के असलान करात्सेव को 6-3, 6-4, 6-4 से पराजित किया.

रविवार को होने वाले फाइनल में उनका मुकाबला डेनिल मेदवेदेव और स्टेफनोस सिटसिपास के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से होगा. जोकोविच अभी तक आस्ट्रेलियाई ओपन में कभी सेमीफाइनल में नहीं हारे. यही नहीं वह अब तक जब भी यहां फाइनल में पहुंचे हैं तब उन्होंने खिताब जीता है. रूसी क्वालीफायर कारेत्सेव अपने पहले ग्रैंडस्लैम में ही सेमीफाइनल में पहुंचने वाले पहले खिलाड़ी थे लेकिन जोकोविच के सामने उनकी एक नहीं चली.

सेरेना पिछले चार वर्षों से मारग्रेट कोर्ट के 24 ग्रैंडस्लैम खिताब की बराबरी करने की कवायद में लगी हैं. वह कई बार इसके करीब पहुंची लेकिन आखिरी क्षणों में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। उन्होंने अपना आखिरी ग्रैंडस्लैम खिताब 2017 में मेलबर्न पार्क पर ही जीता था. ओसाका ने महिला एकल के पहले सेमीफाइनल में 39 वर्षीय सेरेना को 6-3, 6-4 से हराया. इससे पहले 2018 में यूएस ओपन के फाइनल में सेरेना को हराने वाली ओसाका चौथी बार किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के खिताबी मुकाबले में पहुंची हैं. इससे उन्होंने अपने विजय अभियान को 20 मैचों तक भी पहुंचा दिया है. जापान की तीसरी वरीयता प्राप्त ओसाका ने पिछले साल भी यूएस ओपन का खिताब जीता था जबकि 2019 में वह आस्ट्रेलियाई ओपन चैंपियन बनी थी.

वह शनिवार को होने वाले फाइनल में अमेरिका की 22वीं वरीय ब्राडी से भिड़ेगी जिन्होंने चेक गणराज्य की 25वीं वरीय कारोलिना मुचोवा को तीन सेट तक चले कड़े मुकाबले में 6-4, 3-6, 6-4 से पराजित किया. ब्राडी पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची है. ओसाका ने उन्हें पिछले साल यूएस ओपन के सेमीफाइनल में हराया था।. गुरुवार को रॉड लेवर एरेना में दर्शकों की वापसी हुई. उन्हें कोविड-19 लॉकडाउन के कारण पांच दिन तक स्टेडियम में आने से रोका गया था. सेरेना और ओसाका का मैच देखने के लिये 7000 लोगों को अनुमति दी गयी जो कि स्टेडियम की क्षमता के आधी है.


इस हार्डकोर्ट टूर्नामेंट में यह सबसे गर्म दिनों में से एक था. तापमान 30 डिग्री पर पहुंच गया था और ऐसे में ओसाका की शुरुआत अच्छी नहीं रही. उन्होंने गलतियां की जिससे सेरेना पहले सेट में 2-0 से आगे हो गयी. ओसाका के एक और डबल फाल्ट से सेरेना के पास ब्रेक प्वाइंट लेकर 3-0 की बढ़त बनाने का मौका था लेकिन वह चूक गयी और इसके बाद जापानी खिलाड़ी ने पीछे मुड़कर नहीं देखा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


तेईस वर्षीय ओसाका ने मैच के बाद 39 वर्षीय सेरेना के बारे में कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि आज कोई बच्चा यहां है लेकिन मैं तब बहुत छोटी थी जब मैंने उन्हें खेलते हुए देखा था. और अब उनके खिलाफ खेलना मेरे लिये सपने जैसा है. ब्राडी और मुचोवा के बीच मुकाबला बराबरी का रहा. आखिरी और निर्णायक सेट में ब्राडी ने तीन ब्रेक प्वाइंट बचाने के बाद पांचवें मैच प्वाइंट पर जीत दर्ज की. क्वार्टर फाइनल में विश्व की नंबर एक खिलाड़ी एश बार्टी को उलटफेर का शिकार बनाने वाली मुचोवा ने पहला सेट गंवाने के बाद अच्छी वापसी की थी.