भगवा कपड़ा पहने हमलावरों ने लखनऊ में ड्राई फ्रूट्स बेच रहे 2 कश्मीरियों को पीटा, VIDEO भी बनाया

लखनऊ में ड्राई फ्रूट्स बेच रहे 2 कश्मीरियों को पीटा गया, हमलावरों ने वीडियो भी बनाया.

खास बातें

  • लखनऊ में दो कश्मीरियों पर हमला.
  • कश्मीर से होने की वजह से पीटा गया.
  • एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में दो कश्मीरी लोगों पर दक्षिणपंथी संगठन से जुड़े लोगों का कहर टूटा है. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भीड़ भाड़ वाले सड़क पर ड्राई फ्रूट्स बेच रहे कश्मीर के दो विक्रेताओं पर बुधवार को एक राइट-विंग संगठन से जुड़ें लोगों के एक समूह ने हमला कर दिया और उन्हें पीटा. राइट विंग के लोगों में से एक ने कश्मीरी के साथ मारपीट का एक वीडियो भी साझा किया. हालांकि, स्थानीय लोगों की मदद की वजह से दोनों कश्मीरी युवक को हमलावरों को चंगुल से बचाया गया.

कश्मीरी छात्रों के साथ हिंसा की कोई घटना नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकारों से मांगा जवाब

बताया जा रहा है कि दक्षिण पंथी संगठन से जुड़े लोगों ने जिन दो कश्मीरियों को पीटा है, वे लोग कई सालों से लखनऊ में ड्राई फ्रूट्स बेच रहे हैं. बता दें कि इससे पहले पुलवामा हमले के बाद देश के कई कोनों से कश्मीरियों पर हमले की खबरें आईं थीं. जिसे देखते हुए गृह मंत्रालय ने कश्मीरियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी राज्यों को सख्त निर्देश दिए थे.

पीएम मोदी ने कहा- हम कश्मीरियों के खिलाफ नहीं, तो उमर अब्दुल्ला बोले- थैंक यू साहिब, मन की बात कह दी

दरअसल, यह घटना बुधवार शाम 5 बजे हुई. ड्राई फ्रूट्स विक्रेताओं के साथ मारपीट करने वाले लोगों को मोबाइल से कैद किए गये वीडियो में यह कहते हुए सुना जा सकता है कि वे ऐसा इसलिए कर रहे हैं क्योंकि वे कश्मीर से हैं. सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसमें साफ देखा जा सकता है कि कैसे दो हमलावर भगवा कपड़ा पहने हए हैं और वे कश्मीर विक्रेता को थपड़ और डंडे से मार रहे हैं. हालांकि, वहीं कुछ लोग बीच बचाव करने भी आ जाते हैं.

पुणे में कश्मीरी पत्रकार की पिटाई, हमलावरों ने कहा- हम वापस कश्मीर भेज देंगे

हालांकि, कई स्थानीय लोगों ने ड्राई फ्रूट्स बेचने वाले कश्मीरियों को भगवाधारी हमलावरों से बचाया और उन्हें ऐसा करने से रोका. पुलिस ने कहा कि इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और एक को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है.

कश्मीरी मूल के लोगों पर हमले को लेकर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र और राज्य सरकारों को नोटिस जारी

हालांकि, मुख्य आरोपी, जो विश्व हिंदू दल का अध्यक्ष होने का दावा करता है, को गिरफ्तार नहीं किया गया है और वह फेसबुक पर पोस्ट अपडेट कर रहा है. हमले का वीडियो जो उसने फेसबुक पर साझा किया था उसे हटा लिया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

 

बता दें कि यह मामला सोशल मीडिया पर भी काफी वायरल हो गया है.