Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

यूपी के बागपत में यमुना में नाव डूबी, 22 की मौत, 60 थे सवार, 2 लाख मुआवजे का ऐलान

घटना के बाद पुलिस और प्रशासनिक अफसरों के देर से पहुंचने से गुस्साये स्थानीय ग्रामीणों ने दिल्ली राजमार्ग जाम कर दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी के बागपत में यमुना में नाव डूबी, 22 की मौत, 60 थे सवार, 2 लाख मुआवजे का ऐलान

बागपत में 60 लोगों को ले जा रही बोट नदी में डूबी

खास बातें

  1. उत्तर प्रदेश के बागपत में यमुना नदी में हुआ हादसा
  2. नाव में 60 लोग थे सवार, बाकियों की तलाश जारी
  3. सीएम योगी आदित्यनाथ ने 2 लाख मुआवजे की घोषणा की
बागपत:

उत्तर प्रदेश के बागपत में मजदूरों से भरी एक नाव के डूबने की खबर सामने आई है. जिले में गुरुवार को यमुना नदी में किसानों और मजदूरों से भरी नाव डूबने से कम से कम 22 लोगों की मौत हो गई है. जिला प्रशासन ने इसकी पुष्टि की है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे में मरने वालों को 2 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है.  जिला प्रशासन ने बताया कि हादसे के बाद करीब एक दर्जन लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया है. नाव में करीब 60 यात्री सवार थे. पुलिस और प्रशासनिक अफसर मौके पर हैं. बचाव कार्य जारी है.

घटना के बाद पुलिस और प्रशासनिक अफसरों के देर से पहुंचने से गुस्साये स्थानीय ग्रामीणों ने दिल्ली राजमार्ग जाम कर दिया.


यह भी पढ़ें : गंगा, यमुना को फिलहाल जीवित दर्जा नहीं, SC ने नैनीताल हाई कोर्ट के आदेश पर रोक लगाई

टिप्पणियां

मौके पर मौजूद जिलाधिकारी भवानी सिंह ने ‘भाषा’ को बताया कि नाव में क्षमता से अधिक करीब 60 यात्री सवार थे. इनमें अधिकांश महिलाएं थीं. नाव जैसे ही बीच नदी में पहुंची, अचानक डूब गयी. जिलाधिकारी के अनुसार पुलिस और पीएसी की बचाव दल की टीमों ने अभी तक 22 शव निकाले हैं. जबकि करीब एक दर्जन लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया है.

VIDEOS : कुदरत के साथ खिलवाड़ कब तक?​
उन्होंने बताया कि नाव में सवार अधिकांश लोग बागपत से हरियाणा में मजदूरी करने जा रहे थे. इलाके की पुलिस के अनुसार नाव की क्षमता 15-यात्रियों की थी, लेकिन उसमें करीब 60 यात्री सवार थे.(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... क्या कोरोना वायरस से लड़ने के लिए दुनिया और भारत सक्षम हैं?

Advertisement