NDTV Khabar

कानपुर में जहरीली शराब का कहर : अब तक हो चुकी है 10 की मौत, दुकान सील

वहीं कुछ लोगों को हैलेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना के बाद जहां गांव में कोहराम मच गया, वहीं जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कानपुर में जहरीली शराब का कहर : अब तक हो चुकी है 10 की मौत, दुकान सील

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर और कानपुर देहात में  ज़हरीली शराब पीने से 10 लोगों की मौत हो गई है. इस घटना के बाद से शराब दुकान मालिक के खिलाफ केस दर्ज कर दुकान को सील कर दिया गया है. इस मामले में कुछ आबकारी विभाग के कर्मचारियों की लापरवाही भी सामने आ रही है. ऐसे में मामले की जांच कर उन कर्मचारियों पर भी कार्रवाई की तैयारी हो रही है. वहीं कुछ लोगों को हैलेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना के बाद जहां गांव में कोहराम मच गया, वहीं जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है. प्रशासन ने जिस ठेके से शराब खरीदी गई थी, उसके सैंपल लेकर ठेका बंद करा दिया है. साथ ही क्षेत्रीय आबकारी इंस्पेक्टर को निलंबित किया गया है. हालांकि अधिकारी मौतों की वजह जहरीली शराब होना फिलहाल स्वीकार नहीं कर रहे हैं. अधिकारियों का कहना है कि मारे गए लोगों के विसरे की फोरेंसिक जांच की जा रही है जिसकी रिपोर्ट आने के बाद ही आधिकारिक रूप से कुछ कहा जा सकेगा.

सचेंडी थाना क्षेत्र के हेतपुर, सुरार व दूल समेत आसपास के गांवों के लोगों ने शुक्रवार शाम दूल गांव स्थित रामबालक के सरकारी ठेके से शराब खरीदी थी. पीने के बाद शुक्रवार रात में उनकी तबियत बिगड़ने लगी. ​

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश के कानपुर में जहरीली शराब पीने से किसान की मौत

टिप्पणियां
मौतों की सूचना पर सचेंडी पुलिस गांव पहुंची और बाकी बीमार लोगों को एलएलआर अस्पताल (हैलट) व शहर के निजी अस्पतालों में भर्ती कराया. बीमार ग्रमीणों की संख्या दर्जन भर से ज्यादा बताई जा रही है
VIDEO : गाजियाबाद : जहरीली शराब से 4 लोगों की मौत​
परिजन बताते हैं कि शराब पीने से बीमार लोगों को या तो दिखना कम हो गया या उनकी आंखों की रोशनी चली गई. घटना की जानकारी मिलने पर आबकारी विभाग की टीम, डीएम सुरेंद्र सिंह और एसएसपी अखिलेश कुमार, एसपी ग्रामीण, एसडीएम और फोरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची प्रशासन के निर्देश पर ठेके से शराब के सैंपल लिए गए. ठेका संचालक मौके से फरार हो गया है. अधिकारियों के मुताबिक, मामले में एफआईआर दर्ज करा सख्त कार्रवाई की जाएगी. इसके अलावा ठेके का लाइसेंस भी निरस्त किया जाएगा. शराब जहरीली होने की आशंका पर जांच के आदेश दिए गए हैं. शराब में मिले केमिकल की जांच होगी. जांच का यह बिंदु होगा कि आखिर शराब जहरीली कैसे हुई. उधर अफसरों ने एहतियातन उन्नाव से आने वाली सप्लाई पर भी रोक लगा दी है. शराब दुकान के अनुज्ञापी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज दुकान को सीज कर दिया गया है. साथ ही क्षेत्रीय आबकारी इंस्पेक्टर को निलंबित किया गया है. एसएसपी अखिलेश कुमार ने कहा कि घटना की जांच हो रही है. दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी. वहीं डीएम ने जिले के तमाम ठेकों से शराब के सैंपल लेकर जांच कराने के आदेश दिए हैं.
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement