NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश: इटावा के एक तालाब में दुर्लभ प्रजाति के 482 'सुंदरी' कछुए मृत मिले
पढ़ें | Read IN

यूपी के इटावा जिले के भरथना में एक छोटे तालाब से दुर्लभ प्रजाति के 654 कछुओं को बरामद किया गया है. बरामद कछुओं में से 482 मृत पाए गए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश: इटावा के एक तालाब में दुर्लभ प्रजाति के 482 'सुंदरी' कछुए मृत मिले

वन विभाग ने गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई की थी.

इटावा: यूपी के इटावा जिले के भरथना में एक छोटे तालाब से दुर्लभ प्रजाति के 654 कछुओं को बरामद किया गया है. बरामद कछुओं में से 482 मृत पाए गए हैं, जबकि 172 बीमार हैं. सभी कछुए दुर्लभ प्रजाति के हैं. इस प्रजाति के कछुए भारतीय वन्यजीवन  (संरक्षण) अधिनियम 1972 के तहत संरक्षित हैं. वन विभाग ने मुखबिर की सूचना के आधार पर छापेमारी की और कछुओं को बरामद किया. हालांकि तस्कर घटनास्थल से भागने में सफल रहे.

यह भी पढ़ें: कछुओं के अंतर्राष्ट्रीय तस्कर को एसटीएफ की टीम ने कानपुर से किया गिरफ्तार

वन विभाग के मुताबिक इस प्रजाति के कछुए को स्थानीय स्तर पर सुंदरी के नाम से जाना जाता है. वन विभाग के अनुसार इन कछुओं को अलग-अलग इलाकों से लाकर यहां रखा गया था. गिरफ्तारी के डर के गिरोह के सरगना राज कपूर ने तालाब में कछुओं को छुपाया था. वन विभाग की टीम ने स्थानीय पुलिस की मदद से अभियान चलाया था.

यह भी पढ़ें: जानिए घर की किस दिशा में रखना चाहिए कौन-सा कछुआ

पर्यावरणविद डॉ. आशीष ने बताया कि तस्करी किए गए कछुओं का सूप बनाने में उपयोग किया जाता है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि लोगों का यह मानना है कि सेक्स पावर को बढ़ाने वाली दवाई बनाने में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है. 

टिप्पणियां
VIDEO: हल्दिया से वाराणसी पहुंचे जलपोत को कछुओं ने रोका!


उधर राजस्व सूचना निदेशालय (डीआरआई) ने अफ्रीकी मूल की एक संकटग्रस्त प्रजाति के 6 जिंदा कछुओं के साथ दो तस्करों को मध्यप्रदेश के सिवनी जिले से धर दबोचा है. डीआरआई की इंदौर इकाई के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि मुखबिर की सूचना पर वन विभाग की मदद से सिवनी जिले से बुधवार शाम पकड़े गए दोनों आरोपी पश्चिम बंगाल से ताल्लुक रखते हैं. उन्होंने आरोपियों की पहचान का खुलासा किये बगैर बताया कि वे कार में सवार थे और अफ्रीकन स्पर्ड कछुओं को कोलकाता से महाराष्ट्र के एक शहर ले जा रहे थे. उनके पास संकटग्रस्त प्रजाति के इन कछुओं के परिवहन की अनुमति के वैध दस्तावेज नहीं थे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement