NDTV Khabar

यूपी: सिद्धार्थनगर जिला अस्पताल में डॉक्टर की गैर-मौजूदगी और दवा की कमी ने ली 20 साल की लड़की की जान

उत्तर प्रदेश में सरकारी अस्पताल भगवान भरोसे ही चल रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी: सिद्धार्थनगर जिला अस्पताल में डॉक्टर की गैर-मौजूदगी और दवा की कमी ने ली 20 साल की लड़की की जान

सिद्धार्थनगर जिला अस्पताल के सामने आक्रोशित भीड़

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में सरकारी अस्पताल भगवान भरोसे ही चल रहे हैं. उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर के जिला अस्पातल में एक लड़की की मौत दवा की कमी और डॉक्टर की अनुपस्थिति की वजह से हो जाती है. हैरान करने वाली बात यह है कि 20 साल की लड़की की मौत ऐसे वक्त में होती है, जब सिद्धार्थनगर के सांसद जगदंबिका पाल अस्पताल का निरीक्षण कर रहे होते हैं. 

टिप्पणियां
लापरवाही: बुजुर्ग मां का ऑक्सीजन सिलेंडर कंधे पर लाद अस्पताल में एंबुलेंस का इंतजार करता रहा बेटा

घटना शनिवार की है, जब जिला अस्पताल में डॉक्टर की गैरमौजूदगी और दवा  की किल्लत से लड़की दम तोड़ देती है. हालांकि, सांसद ने यह आश्वासन दिया है कि जिम्मेवार डॉक्टर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. हालांकि, अस्पतालों में लापरवाही का यह पहला मामला नहीं है, ऐसे कई मामले निश्चित समय अंतराल पर सामने आते रहते हैं, जिसमें अस्पताल प्रशासन की लापरवाही सि कई की मौत हो जाती है. 


अस्पताल की लापरवाही, नहीं मिली एम्बुलेंस तो रिक्शे पर ले गया पिता का शव


इससे पहले भी यह खबर आई थी कि उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में गंभीर रूप से घायल दो किशोरों को पुलिस वालों ने अस्पताल ले जाने से मना कर दिया था, जिसकी बाद में बाद में मौत हो गई थी. हालांकि, इसके बाद आरोपी पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था. अब इन पुलिसकर्मियों के खिलाफ 'लापरवाही के चलते मौत' का मामला दर्ज कर लिया गया था. 

VIDEO: दिल्ली का सुश्रुत ट्रामा सेंटर : चोट सिर में, सर्जरी पैर की


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement