यूपी: बुलंदशहर में दो मुस्लिम युवकों को कार से निकालकर बेरहमी से पीटा, कहा- इसे भी दिल्ली समझते हो?

वायरल वीडियो में छह-सात लोगों का एक समूह दो लोगों को बेरहमी से पीटता हुआ दिखाई दे रहा है. वे उन दोनों को बार-बार लात और घूंसों से मार रहे हैं. वहीं मार खाते हुए दोनों मुस्लिम शख्स रोते हुए रहम की भीख मांग रहे हैं. 

यूपी: बुलंदशहर में दो मुस्लिम युवकों को कार से निकालकर बेरहमी से पीटा, कहा- इसे भी दिल्ली समझते हो?

बुलंदशहर में हमलावरों के एक समूह ने दो मुस्लिम युवकों की बेरहमी से पिटाई की.

खास बातें

  • बाजार से गाजर खरीदने जा रहे थे दोनों युवक
  • हमलावरों में शामिल दो लोगों ने गाड़ी के सामने खड़ी कर दी बाईक
  • कहा- क्या इसे भी दिल्ली समझते हो?
बुलंदशहर:

दिल्ली में हिंसा के बाद अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में सोमवार को दो मुस्लिम युवकों के साथ मारपीट का मामला सामने आया है. मारपीट में जख्मी हुए एक युवक का कहना है कि हमलावरों ने उनके धर्म को लेकर उन्हें गालियां दी और गो हत्या का आरोप लगाया. साथ ही उसने बताया कि उन्होंने एसिड अटैक की धमकी भी दी. इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर बुधवार को सामने आया, जिसमें छह-सात लोग दो लोगों की बेरहमी से पिटाई करते हुए दिख रहे हैं. वे उन दोनों को बार-बार लात और घूंसों से मार रहे हैं. वहीं मार खाते हुए दोनों मुस्लिम शख्स रोते हुए रहम की भीख मांग रहे हैं.

इन दोनों युवकों पर लाठी से भी वार किया गया. दोनों ही हमलवारों को 'भाई' कहकर बख्श देने के लिए कह रहे थे. हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि हमले का वीडियो किसने शूट किया है. लेकिन वीडियो में कुछ दूसरों लोगों को मोटरसाइकिल पर बैठे हुए देखा जा सकता है, जो इस बर्बर कार्रवाई को देखते रहते हैं. 

दिल्ली हिंसा : हिंदू परिवारों ने मुस्लिम की दुकानें जलने से बचाई, पता न चल सके इसलिए उतार दिए थे बोर्ड

इस हमले में घायल एक व्यक्ति ने कहा, 'हम बाजार से गाजर खरीदने जा रहे थे. अचानक उन्होंने (हमलावरों ने) हमारे सामने बाइक खड़ी की और हमें खींचकर ले गए. वहां लगभग छह या सात आदमी थे. उन्होंने हमसे पूछा, 'आपको लगता है कि यह दिल्ली है?' इसके साथ ही उसने कहा कि उसे और उसके दोस्त को एक ऐसी जगह ले जाया गया जहां दूसरे लोग जंजीरों और हथियारों के साथ इंतजार कर रहे थे. वहीं पीड़ित ने कहा, 'दिल्ली हिंसा से हमारा कोई लेना-देना नहीं था.'

दिल्ली हिंसा के बीच चांदबाग के मुस्लिम गली वालों ने विदा की हिंदू दुल्हन

Newsbeep

अब बुलंदशहर पुलिस घटना की जांच कर रही है, लेकिन अभी तक इसे एक मामूली 'विवाद' के रूप में ही देख रही है. शायद इसीलिए पुलिस द्वारा दर्ज की गई एक प्राथमिकी में हमले के कारणों का उल्लेख नहीं है. बता दें, नागरिकता कानून (CAA) को लेकर हुई हिंसा में पिछले सप्ताह उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कुछ हिस्सों को अपने चपेट में ले लिया था. सशस्त्र उपद्रवियों ने चार दिन तक मचाए उपद्रव में स्कूलों, घरों और दुकानों को जलाया और संप्रदाय विशेष के खिलाफ जमकर हिंसा की गई. इस हिंसा में 50 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों लोग घायल हो गए. जिसमें लगभग 50 मृत और सैकड़ों घायल हो गए. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: हिंसा के बीच चांदबाग पहुंची बारात का मुसलमानों ने किया स्वागत