NDTV Khabar

CM योगी का ऐलान: मेरठ से प्रयागराज तक बनेगा दुनिया का सबसे लंबा गंगा एक्सप्रेस-वे, 600 KM होगी दूरी, 36 हजार करोड़ रुपए होंगे खर्च

600 किलोमीटर लंबा यह एक्सप्रेस-वे मेरठ से प्रयागराज तक बनेगा. सीएम योगी ने बताया कि इस पर 36 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
CM योगी का ऐलान: मेरठ से प्रयागराज तक बनेगा दुनिया का सबसे लंबा गंगा एक्सप्रेस-वे, 600 KM होगी दूरी, 36 हजार करोड़ रुपए होंगे खर्च

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ.

खास बातें

  1. कैबिनेट बैठक के बाद सीएम योगी का ऐलान
  2. मेरठ से प्रयागराज तक बनेगा एक्सप्रेस-वे
  3. 36 हजार करोड़ रुपए होंगे खर्च
प्रयागराज:

उत्तर प्रदेश सरकार (Up Govt) की कैबिनेट बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने उत्तर प्रदेश में दुनिया का सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे बनाने का ऐलान किया है. यह एक्सप्रेस-वे पश्चिमी यूपी को प्रयागराज से जोड़ेगा. 600 किलोमीटर लंबा यह एक्सप्रेस-वे मेरठ से प्रयागराज तक बनेगा. सीएम योगी ने बताया कि इस पर 36 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे. इसके साथ ही सीएम योगी ने कहा कि पिछले छह साल में कुंभ में बड़ा बदलाव आया है, कम समय में बहुत काम किया गया है. उन्होंने गंगा की सफाई के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया.

सीएम ने बताया, 'यह एक्सप्रेसवे मेरठ, अमरोहा, बुलंदशहर, बदायूं, शाहजहांपुर, फर्रुखाबाद, हरदोई, कन्नौज, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ होते हुए प्रयागराज आएगा. यह एक्सप्रेसवे जब बनेगा तो दुनिया का सबसे बड़ा एक्सप्रेसवे होगा. यह लगभग 600 किलोमीटर लंबा एक्सप्रेसवे होगा. इस एक्सप्रेसवे के लिए लगभग 6,556 हेक्टेयर भूमि की जरूरत पड़ेगी. फोर लेन एक्सेस कंट्रोल एक्सप्रेसवे का छह लेन तक विस्तार किया जा सकेगा.'


अयोध्या मामले पर बोले सीएम योगी आदित्यनाथ: मसला हमें सौंप दें, समाधान 24 घंटे के भीतर कर देंगे 25 नहीं होने देंगे

रिपोर्ट्स के मुताबिक बैठक के बाद मुख्यमंत्री कुंभ में पवित्र संगम में स्नान भी करेंगे. मुख्यमंत्री के साथ मंत्रिमंडल के उनके सहयोगी भी स्नान कर सकते हैं. अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया था कि 29 जनवरी को कैबिनेट की बैठक प्रयागराज में कुंभ मेला स्थल के इंट्रीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर में होगी. स्नान के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ पूरे मंत्रिमंडल के सदस्य 450 साल के बाद खोले गए अक्षयवट और पवित्र सरस्वती कूप के दर्शन करेंगे.

उत्तर प्रदेश: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का प्रियंका गांधी पर तंज, कहा- 'जीरो प्लस जीरो इक्वल्स जीरो', उनके आने से भी कोई फायदा नहीं

कैबिनेट बैठक को लेकर वीवीआईपी अरेंजमेंट और रूट डायवर्जन के चलते अब लोग सवाल उठा रहे हैं कि कुंभ कैबिनेट के लिए है या विशुद्ध धार्मिक और आध्यात्मिक आयोजन के लिए? हालांकि, कुंभ मेले का राजनीतिक और व्यवसायिक इस्तेमाल कोई नई बात नहीं है. लेकिन इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र संजय कहते हैं कि धार्मिक आयोजन में VVIP को भी श्रद्धालु बनकर ही आना चाहिए अगर वो अपनी विशिष्ठता नहीं छोड़ सकते हैं तो हमारे जैसे श्रद्धालुओं के लिए कुंभ को छोड़ दें.

टिप्पणियां

VIDEO- प्रयागराज: कुंभ में CM योगी की कैबिनेट बैठक

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement