Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सरकार के पास NRC के लिए सक्षम और पारदर्शी तंत्र नहीं है: उप्र कांग्रेस

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्य‍क्ष अजय कुमार लल्लू ने रविवार को कहा, ‘असम में NRC को जिस तरह लागू कर करीब 19 लाख लोगों को बाहरी घोषित किया गया, उससे वहां की भाजपा सरकार की पोल खुल गई है. मामला बढ़ने पर सरकार ने कहा कि वहां फिर से NRC की कवायद की जाएगी.

सरकार के पास NRC के लिए सक्षम और पारदर्शी तंत्र नहीं है: उप्र कांग्रेस

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (फाइल फोटो)

खास बातें

  • इस अतिसंवेदनशील कवायद को अंजाम देने के लिए निष्पक्ष और पारदर्शी तंत्र नही
  • असम में NRC को जिस तरह लागू कर करीब 19 लाख लोगों को बाहरी घोषित किया गया
  • सरकार ने कहा कि वहां फिर से NRC की कवायद की जाएगी
लखनऊ:

कांग्रेस ने असम में राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (NRC) में बड़े पैमाने पर गड़बड़ियों और खामियों का आरोप लगाते हुए कहा है कि इस व्यवस्था को पूरे देश में लागू करने जा रही केन्द्र सरकार के पास नागरिकता तय करने की इस अतिसंवेदनशील कवायद को अंजाम देने के लिएनिष्पक्ष और पारदर्शी तंत्र नहीं है. उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्य‍क्ष अजय कुमार लल्लू ने रविवार को कहा, ‘असम में NRC को जिस तरह लागू कर करीब 19 लाख लोगों को बाहरी घोषित किया गया, उससे वहां की भाजपा सरकार की पोल खुल गई है. मामला बढ़ने पर सरकार ने कहा कि वहां फिर से NRC की कवायद की जाएगी. अब सरकार पूरे देश में NRC लागू करने की बात कर रही है, मगर उसके पास अखिल भारतीय स्तर पर NRC लागू करने के लिये सक्षम, निष्पक्ष और पारदर्शी तंत्र नहीं है.'

उन्होंने कहा कि हर मोर्चे पर नाकाम हो चुकी केन्द्र की भाजपा सरकार अब लोगों को नोटबंदी की तरह NRC में उलझाना चाहती है ताकि वे बुनियादी मुद्दों को भूलकर अपने प्रमाणपत्र जुटाने में ही लगे रहें. लल्लू ने सवाल किया, ‘सरकार बताए कि असम में NRC में हुई विसं‍गतियों के लिये जांच कब बैठायी जाएगी और उसकी रिपोर्ट कब सार्वजनिक की जाएगी?'

नागरिकता कानून पर अभिजीत बनर्जी : "एक बात जो मुझे चिंतित करती है..."

उप्र कांग्रेस अध्यक्ष ने संशोधित नागरिकता कानून (CAA) का जिक्र करते हुए कहा, ‘सीएए के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों को प्रदेश सरकार दंगाई करार दे रही है, और पुलिस ज्यादती के पीड़ितों से हमदर्दी दिखाने पर वह ‘कांग्रेस का हाथ, दंगाइयों के साथ' की बात कर रही है.' उन्होंने कहा कि प्रदेश में CAA के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान 23 लोगों की जान गई और शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करने का नोटिस देने वाले हजारों लोगों के खिलाफ गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. लल्लू ने कहा कि देश के लोग अगर आंदोलित हैं तो सरकार को उनकी बात सुननी चाहिए.

VIDEO: बीजेपी सांसद उदय प्रताप सिंह का बयान, जो राज्य CAA को इनकार करेंगे वहां लगेगा राष्ट्रपति शासन



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)