अखिलेश यादव ने यूपी की कानून व्यवस्था पर उठाया सवाल तो BJP ने कहा- भूल गये हैं कि उनके राज में...

भारतीय जनता पार्टी ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर उठाये गये सवालों पर पलटवार करते हुए गुरूवार को कहा कि कानून व्यवस्था पर सवाल उठाने वाले अखिलेश भूल गये हैं कि...

अखिलेश यादव ने यूपी की कानून व्यवस्था पर उठाया सवाल तो BJP ने कहा- भूल गये हैं कि उनके राज में...

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

लखनऊ:

भारतीय जनता पार्टी ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर उठाये गये सवालों पर पलटवार करते हुए गुरूवार को कहा कि कानून व्यवस्था पर सवाल उठाने वाले अखिलेश भूल गये हैं कि उनके राज में राजधानी की सड़कों पर डीएसपी को बोनट पर टांगकर घुमाया जाता था और थाने के भीतर पुलिकर्मियों की हत्याएं हो जाती थीं. भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता समीर सिंह ने कहा, ''सपा सरकार के संरक्षण में अपराधी खूब पले बढ़े.''

समाजवादी पार्टी ने लोकसभा में किया आर्टिकल 370 संबंधी बिल का विरोध

पार्टी प्रवक्ता ने दावा किया कि योगी सरकार में कानून व्यवस्था बेहतर हुई है और अपराधियों के खिलाफ लगातार हो रही कार्रवाई से घबराकर आज वही अपराधी खुद को जेल के भीतर सुरक्षित पा रहे हैं, जो पूर्ववर्ती सरकारों में आतंक फैलाये थे. सिंह ने कहा कि विरासत से सियासत में आए सैफई के युवराज ने उत्तर प्रदेश को सत्ता संरक्षित अपराध का हब बना दिया था और यहां तक कि मुख्यमंत्री आवास तक को अपराधियों की शरण स्थली बना दी थी.

उत्तर प्रदेश : 25 सूत्रीय मांग पर समाजवादी पार्टी का प्रदेशव्यापी प्रदर्शन नौ अगस्त को

उन्होंने कहा कि योगी सरकार के कानूनी चाबुक से अपराधी थर्रा रहे हैं. धड़ाधड़ हो रहे एनकाउन्टर से अपराधी या तो सलाखों के पीछे हैं या दुनिया छोड़कर चले गये हैं. उन्होंने कहा कि फिर भी सैफई के युवराज प्रदेश की कानून व्यवस्था पर उंगली उठाकर प्रदेश को हत्या प्रदेश बता रहे हैं. भाजपा नेता ने कहा सपा की मूल प्रवृत्ति में अपराधी संरक्षण रहा है जिसे अखिलेश यादव ने और अधिक पोषित किया और अब अपराध की सूखती विष बेल ने अखिलेश यादव को चिंतित कर दिया है.

Video: लोकसभा में बोले अखिलेश यादव- कश्मीर को हम नहीं चाहते क्या?



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com