NDTV Khabar

कांग्रेस-बीजेपी के दावों के बीच अमेठी रेल नीर प्लांट पर रेलवे के अधिकारियों ने कहा- 2015 में शुरू हुआ था प्रोजेक्ट

शुक्रवार को ट्वीट में कांग्रेस ने दावा किया था कि संयंत्र 2014 में स्थापित किया गया था लेकिन बाद में भाजपा के हैंडल से किए गए ट्वीट में कहा गया कि इसे 2015 में शुरू किया गया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस-बीजेपी के दावों के बीच अमेठी रेल नीर प्लांट पर रेलवे के अधिकारियों ने कहा- 2015 में शुरू हुआ था प्रोजेक्ट

फाइल फोटो

लखनऊ: रेलवे ने कांग्रेस के 2014 में आईआरसीटीसी द्वारा अमेठी में रेल नीर का संयंत्र शुरू करने के दावे को नकारते हुए शनिवार को कहा है कि यह संयंत्र 2015 में शुरू किया गया था. शुक्रवार को ट्वीट में कांग्रेस ने दावा किया था कि संयंत्र 2014 में स्थापित किया गया था लेकिन बाद में भाजपा के हैंडल से किए गए ट्वीट में कहा गया कि इसे 2015 में शुरू किया गया था. अधिकारियों ने बताया कि संयंत्र की घोषणा 2010-2011 के बजट में की गयी थी और इसका शिलान्यास फरवरी 2014 में चुनावों से पहले किया गया था. उन्होंने बताया कि आईआरसीटीसी ने इसे 2015 में शुरू किया था. 
 
राजधानी, दुरंतो एक्सप्रेस के देर से चलने पर यात्रियों को मुफ्त में मिलेगी पानी की बोतल

इस संयंत्र की क्षमता प्रतिदिन भारतीय रेलवे के लिए 72000 हजार बोतल बनाने की है और यह लखनऊ रेलवे स्टेशन से 125 किलोमीटर दूर अमेठी के टिकरिया में स्थित है. यहां से रेल नीर की बोतलें लखनऊ, कानपुर, इलाहाबाद, गोरखपुर और वाराणसी जैसे बड़े स्टेशनों को आपूर्ति की जाती हैं.

सीबीआई ने किया रेलवे में 'पानी घोटाले' का पर्दाफाश, 20 करोड़ रुपये नकद जब्‍त

टिप्पणियां
मुंबई से सटे अंबरनाथ में पानी माफिया लूट रहे रेलवे का पानी

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement