NDTV Khabar

आजम खान की बढ़ीं मुश्किलें, अब लगा लग्जरी रिसॉर्ट के लिए जमीन हड़पने का आरोप

समाजवादी पार्टी (सपा) सांसद जमीन हथियाने के 26 नए मामलों के बाद अब एक और करोड़ों रुपये के जमीन घोटाले में फंस गए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आजम खान की बढ़ीं मुश्किलें, अब लगा लग्जरी रिसॉर्ट के लिए जमीन हड़पने का आरोप

आजम खान

खास बातें

  1. एक और करोड़ों रुपये के जमीन घोटाले में फंस आजम
  2. आजम पर जमीन हथियाने के 26 मामले पहले से हैं
  3. सिंचाई विभाग ने आजम खान को जारी किया नोटिस
यूपी:

समाजवादी पार्टी (सपा) सांसद आजम खान (Azam Khan) जमीन हथियाने के 26 नए मामलों के बाद अब एक और करोड़ों रुपये के जमीन घोटाले में फंस गए हैं. उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग ने उनको रामपुर में लग्जरी रिसॉर्ट हमसफर के लिए सरकारी जमीन कब्जाने को लेकर नोटिस जारी किया है. जिला प्रशासन ने सरकारी जमीन के एक बड़े टुकड़े को कब्जाने के संबंध में अनियमितताओं का आरोप लगाया है. इस जमीन पर गेस्ट हाउस का निर्माण किया गया है. उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खान(Azam Khan) के खिलाफ सरकारी और गरीब किसानों की कृषि योग्य भूमि हथियाने के सिलसिले में लगातार मामले दर्ज किए जाने के बाद उनको भूमाफिया घोषित किया गया है.  

सपा सांसद आजम खान माफी मांग कर बैठे ही थे कि रमा देवी को आ गया गुस्सा, बोलीं-खबरदार!


प्रवर्तन निदेशालय (ईडी)भी खान के निजी विश्वविद्यालय के खाते में विदेशों से दान मिलने से संबंधित कथित धनशोधन के आरोपों की जांच कर रहा है. ईडी ने रामपुर पुलिस से आजम खान के खिलाफ दर्ज मामलों की सूची मांगी है. इस बीच प्रदेश पुलिस ने आजम खान के स्टाफ को मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी से संबंधित जमीन के सभी सौदों का ब्योरा देने के लिए तीन दिन का अल्टीमेटम दिया है. 

पुलिस अधीक्षक (रामपुर) अजय पाल शर्मा ने आईएएनएस को बताया कि पुलिस ने राजस्व रिकॉर्ड, भुगतान रसीद और जिनसे जमीन ली गई है उन पक्षों के साथ जमीन के करार का ब्योरा मांगा है. खरीदी गई जमीन का मूल्य कई सौ करोड़ रुपये है. 

BJP सांसद से 'अभद्र' बात कहने पर आजम खान ने मांगी माफी, रमा देवी बोलीं- उनकी आदत बिगड़ी हुई है

टिप्पणियां

पुलिस अधीक्षक ने कहा, "हमें बिक्री अभिलेख की जांच करने की जरूरत है और असली विक्रेता से इसका सत्यापन करना है. हम उन खातों की जांच करना चाहते हैं जिनसे भुगतान हुआ है. जिन पक्षों ने भुगतान प्राप्त किया है उनका सत्यापन करना है."

खबरों की खबर: आजम विवाद में क्या देश के सामने एक मिसाल कायम करना ज़रूरी ?​



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement