NDTV Khabar

हज समिति दफ्तर को भगवा रंग में रंगने के मामले में सचिव को तात्कालिक प्रभाव से हटाया गया

पद पर स्थाई तैनाती होने तक इसका कार्यभार अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के सहायक निदेशक विनीत श्रीवास्तव को सौंपा गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हज समिति दफ्तर को भगवा रंग में रंगने के मामले में सचिव को तात्कालिक प्रभाव से हटाया गया

(फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सचिव आर. पी. सिंह को तात्कालिक प्रभाव पद से हटा दिया गया है.
  2. सिंह को एक नोटिस देकर उनसे सात बिंदुओ पर सफाई मांगी गई .
  3. योगी सरकार की इस पर विपक्ष ने तीखी आलोचना की थी .
लखनऊ: प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव मोनिका एस. गर्ग द्वारा सोमवार को जारी आदेश के मुताबिक हज समिति के सचिव आर. पी. सिंह को तात्कालिक प्रभाव पद से हटा दिया गया है. पद पर स्थाई तैनाती होने तक इसका कार्यभार अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के सहायक निदेशक विनीत श्रीवास्तव को सौंपा गया है. इसके पूर्व, सिंह को एक नोटिस देकर उनसे सात बिंदुओ पर सफाई मांगी गई थी. उनसे पूछा गया था कि किस आदेश और नियम के तहत हज समिति कार्यालय की बाहरी दीवार को भगवा रंग से पोता गया था और आखिर एक दिन बाद उसका रंग क्यों बदल दिया गया. दोबारा पुताई कराने के लिए कौन जिम्मेदार है और दोबारा हुई पुताई का खर्च या नुकसान कौन उठाएगा.

मालूम हो कि गत पांच जनवरी को राज्य हज समिति कार्यालय की बाहरी दीवार केसरिया रंग से रंगी पाई गई थी. कार्यालय के गेट के खम्बों को गहरे केसरिया रंग से और बाकी हिस्सों को हल्के भगवा रंग से रंगा गया था. पहले यह दीवार सफेद रंग की थी.

यह भी पढ़ें : कमाल की बात : हज सब्सिडी का खेल खत्म, बाकी भी खत्म हो

सचिवालय भवन को भगवा रंग से रंगे जाने को लेकर निशाने पर आई प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के लिए हज समिति कार्यालय पर गेरुआ रंग चढ़ाया जाना विपक्ष की तीखी आलोचना लेकर आया. अगले ही दिन हज दफ्तर की दीवार को केसरिया के बजाय हल्के पीले रंग से पोत दिया गया था.

टिप्पणियां
VIDEO : लखनऊ में हज समिति के ऑफिस पर भी भगवा रंग​

प्रदेश में विभिन्न इमारतों को भगवा रंग में रंगे जाने को लेकर खासी चर्चा हो रही है. इटावा में शौचालयों को भी केसरिया रंग से रंगे जाने पर विपक्ष ने सरकार को घेरा था.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement