NDTV Khabar

भाजपा नेता के परिजनों ने चौराहे पर शव रखकर किया प्रदर्शन, CBI जांच की भी मांग की

भाजपा नेता शिव कुमार यादव और उनके दो निजी अंगरक्षकों की कल हुई हत्या के बाद नेता के परिजन ने आज सुबह उनके शव के साथ नोएडा के सेक्टर 71 चौराहे पर प्रदर्शन किया

63 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
भाजपा नेता के परिजनों ने चौराहे पर शव रखकर किया प्रदर्शन, CBI जांच की भी मांग की

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. भाजपा नेता के परिजनों ने चौराहे पर शव रखकर किया प्रदर्शन
  2. परिजनों ने CBI जांच की भी मांग की
  3. प्रदर्शन में कई भाजपा के कई नेता भी शामिल थे
नोएडा: भाजपा नेता शिव कुमार यादव और उनके दो निजी अंगरक्षकों की कल हुई हत्या के बाद नेता के परिजन ने आज सुबह उनके शव के साथ नोएडा के सेक्टर 71 चौराहे पर प्रदर्शन किया जिसके कारण सड़क पर यातायात बाधित हो गया. इस प्रदर्शन के कारण नोएडा में चार किलोमीटर लंबा जाम लग गया. प्रदर्शन में आसपास के दर्जनभर गांवों के हजारों ग्रामीणों ने हिस्सा लिया, इसमें भाजपा के कई नेता भी शामिल थे.पुलिस के अनुसार, मौके पर पहुंचे नगर पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार सिंह के समझाने बुझाने के बाद परिजन ने प्रदर्शन समाप्त किया. भाजपा नेता के परिजन की मांग है कि इस घटना की जांच सीबीआई से कराई जाए. शिवकुमार यादव के भाई शिवराम यादव ने कहा कि उनके भाई की हत्या एक षड्यंत्र के तहत की गई है. स्थिति को देखते हुए गांव बहलोलपुर में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है.

यह भी पढ़ें: अमेरिका में भारतीय छात्र 'धरमजीत' की गोली मारकर की हत्या, मामले में एक गिरफ्तार

उल्लेखनीय है कि भाजपा नेता शिव कुमार यादव कल दोपहर गांव हैबतपुर स्थित अपने स्कूल से कार में सवार होकर घर जा रहे थे. उनके साथ उनके दो अंगरक्षक बली नाथ और रईस पाल भी थे. वह जैसे ही तिगरी गांव के पास पहुंचे, दो मोटरसाइकिलों पर सवार होकर आए चार बदमाशों ने उनकी कार पर अंधाधुंध गोलियां चला दीं. कार अनियंत्रित होकर एक पेड़ से टकराकर पलट गई. कार की चपेट में आकर 14 वर्षीय अंजलि नामक छात्रा की भी मौत हो गई. बदमाशों द्वारा चलाई गई गोली भाजपा नेता शिवकुमार और उनके दोनो अंगरक्षकों को लगी. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर शिवकुमार और बल्लीनाथ को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया, जबकि रईस पाल की देर रात को मौत हो गई.

यह भी पढ़ें: प्रद्युम्‍न हत्‍याकांड में एक और मोड़, सीबीआई ने कंडक्‍टर अशोक को नहीं दी क्‍लीन चिट

टिप्पणियां
भाजपा नेता के परिजन ने थाना बिसरख में मामला दर्ज कराया है. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लव कुमार ने बताया कि बदमाशों की तलाश के लिए पुलिस की कई टीमें बनाई गई है. एसएसपी के अनुसार, प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत हो रहा है कि यह हत्या सुपारी देकर कराई गई है. भाजपा नेता के पिता और चाचा की 25 वर्ष पूर्व हत्या हो चुकी है. गांव हैबतपुर में हुई एक हत्या के मामले में शिव कुमार जेल गए थे. पुलिस इस मामले में प्रॉपर्टी विवाद और पुरानी रंजिश को ध्यान में रखकर जांच कर रही है.

VIDEO: बीजेपी नेता की दिनदहाड़े हत्या
भाजपा नेता की हत्या के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement