NDTV Khabar

सीएम योगी के सामने ही उनके मंत्री ने मुलायम को रावण और मायावती को कहा शूर्पणखा

बीएसपी ने मंत्री के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए थाने में तहरीर दी है. पुलिस का कहना है कि वो जांच के बाद ही कुछ करेगी.

440 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीएम योगी के सामने ही उनके मंत्री ने मुलायम को रावण और मायावती को कहा शूर्पणखा

नंदगोपाल नंदी ने अखिलेश यादव को भी मेघनाथ कहा है

लखनऊ: यूपी की राजनीति में अखिलेश और मायावती के साथ आते ही उनपर बीजेपी के हमले तेज हो गए हैं. सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने उनकी तुलना सांप और छुछुंदर से कर दी है और उनके मंत्री नंदगोपाल नंदी ने अखिलेश को मेघनाथ और मायावती को शूर्पणखा कह दिया है. बीएसपी ने मंत्री के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए थाने में तहरीर दी है. पुलिस का कहना है कि वो जांच के बाद ही कुछ करेगी.

यूपी में हो रहे गोरखपुर ओर फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में अध्‍यक्ष अखलेश यादव और मायावती के साथ आते ही उसका असर बीजेपी नेताओं की प्रतिक्रियाओं में दिखने लगा है. गोरखपुर की लोकसभा सीट पिछले 28 सालों से गोरखनाथ मठ के महंतों के पास ही रही है. योगी ने सोमवार को गोरखपुर में चुनावी रैली में कहा, 'आज दोनों के बीच गठबंधन होने की चर्चाएं हैं. दोनों एक होना चाहते हैं. जब तूफान आता है तो सांप और छुछुंदर सब एक साथ मिल कर एक उसमें खड़े हो जाते हैं.... यही हालत उनकी है.'

योगी सरकार के मंत्री नंदगोपाल नंदी ने फूलपुर में योगी की चुनावी रैली में मंच से भाषण देते हुए मुलायम को रावण, अखिलेश को मेघनाथ और मायावती को शूर्पणखा कहा. नंदी ने कहा, ''तभी मेघनाथ आगे बढ़े ओर मुस्‍कुराकर बोले, हे प्रभू, मैं तो युवराज हूं, मेरा क्‍या होगा. प्रभू राम ने कहा कलयुग में तुम्‍हारा नाम अखिलेश होगा. तुम 2012 में जनता को मूर्ख बना कर एक बार राज्‍य के मुख्‍यमंत्री बन जाओगे, और इस वंश के आखिरी शासक साबित होगे.''

नंदी ने मायावती के लिए कहा कि भागवान राम से शूर्पणखा ने कहा, 'प्रभू, हमारा क्‍या होगा? तो भगवान राम बोले, कलयुग में तुम भी अयोध्‍या पर राज करोगी. तब तुम्‍हारा नाम मायावती होगा. लेकिन तब भी तुम्‍हारी शादी नहीं होगी.

टिप्पणियां
जिस मंच से मंत्री नंदगोपाल नंदी मुलायम को रावण, अखिलेश को मेघनाथ और मायावती को शूर्पणखा कह रहे थे, उस मंच पर योगी आदित्‍यनाथ भी मौजूद थे. बीएसपी के जोनल कोऑर्डिनेटर डॉ. अशोक गौतम ने इलाहाबाद के धूमनगंज थाने में मंत्री के खिलाफ एफआईआर करने की तहरीर दी है. लेकिन पुलिस का कहना है कि वह जांच के बाद ही कोई फैसला लेगी.

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इसके पहले अखिलेश और मायावती के साथ को रहीम का एक दोहा सुनाकर 'बेर और केले' का साथ बताया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement