बीजेपी MLA बोले, हमारे पास मोदी जैसा पीएम और योगी जैसा सीएम, फिर भी भगवान राम टेंट में

सुरेंद्र सिंह ने कहा ''हमारे पास नरेंद्र मोदी जी जैसा प्रधानमंत्री है और योगी आदित्यनाथ जी जैसा मुख्यमंत्री. दोनों हिंदुत्व को मानते हैं, लेकिन दुर्भाग्यवश उनके शासनकाल में भगवान राम टेंट में हैं''.

बीजेपी MLA बोले, हमारे पास मोदी जैसा पीएम और योगी जैसा सीएम, फिर भी भगवान राम टेंट में

सुरेंद्र सिंह ने कहा कि भगवान राम संविधान से उपर हैं.

खास बातें

  • बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने की आलोचना
  • कहा- भगवान राम अभी भी टेंट में हैं, यह दुर्भाग्यपूर्ण
  • बोले- तय स्थान पर मंदिर जल्द से जल्द बने
बलिया:

बीजेपी नेता और विधायक सुरेंद्र सिंह (Surendra Singh) अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर अब अपनी ही पार्टी की खिलाफत पर उतर आए हैं. सुरेंद्र सिंह ने ताकतवर पद पर होने के बावजूद राम मंदिर निर्माण के लिए कदम न उठाने पर पीएम नरेंद्र मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आलोचना की है. मीडिया से बातचीत करते हुए सुरेंद्र सिंह ने कहा ''हमारे पास नरेंद्र मोदी जी जैसा प्रधानमंत्री है और योगी आदित्यनाथ जी जैसा मुख्यमंत्री. दोनों हिंदुत्व को मानते हैं, लेकिन दुर्भाग्यवश उनके शासनकाल में भगवान राम टेंट में हैं''. सुरेंद्र सिंह ने कहा 'यह भारत के लिए तो दुर्भाग्यपूर्ण है ही. साथ ही हिंदू समाज के लिए भी दुर्भाग्य की बात है. अब ऐसी स्थिति बननी चाहिए जिससे अयोध्या में भगवान राम का मंदिर जरूर बने'. बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि 'अब राम मंदिर निर्माण में और देरी नहीं होनी चाहिए. भगवान संविधान से उपर हैं. ऐसे में अयोध्या में तय स्थान पर भगवान राम का मंदिर जल्द से जल्द बनना चाहिए'.

संतों ने राम मंदिर निर्माण के लिए सरकार से अध्यादेश लाने या काननू बनाने की मांग की

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने बीते 12 नवंबर को कहा था कि 'जब भगवान राम चाहेंगे तब अयोध्या में मंदिर बन जाएगा'. उन्होंने कहा कि हर कार्य भगवान ही करते हैं. बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में भी राम मंदिर पर अपना पक्ष रखा है. गौरतलब है कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir in Ayodhya) को लेकर जारी हलचलों के बीच उत्तर प्रदेश सरकार के धर्मार्थ कार्य मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने भी बड़ा बयान दिया था. उन्होंने कहा कि अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास निश्चित तौर पर होगा और मुख्ममंत्री योगी आदित्यनाथ ही शिलान्यास करेंगे. योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने मथुरा में कहा, "आज भारत का जनमानस अयोध्या में भगवान श्रीराम का मंदिर (Ram Mandir) चाहता है. इसलिए चाहे राजनेता हों, न्यायपालिका या फिर कार्य पालिका हो, सभी को जनभावना का आदर करना चाहिए.

संतों ने राम मंदिर निर्माण के लिए सरकार से अध्यादेश लाने या काननू बनाने की मांग की 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले राम जन्मभूमि अयोध्या में राम का मंदिर (Ram Mandir) जरूर बनेगा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ही शिलान्यास करेंगे, इसमें कोई संदेह नहीं है". इससे पहले बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी के अयोध्या (Ayodhya) छोड़ने वाले बयान पर उन्होंने कहा, "अयोध्या में हमेशा संत आते रहे हैं. कुंभ में लाखों की तादाद में संत पहुंचते हैं. किसी को डरने की जरूरत नहीं है, मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था कायम करने की मिसाल पेश की है". आपको बता दें कि पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि अयोध्या में भगवान राम की मूर्ति का निर्माण होगा. यह मूर्ति खूले में नहीं, बल्कि इनसाइड होगी. CM ने कहा कि भगवान राम की मूर्ति को लेकर आर्किटेक्चर से बातचीत हो रही है 

VIDEO: प्राइम टाइम: राम मंदिर का मुद्दा फिर क्यों गर्माने लगा?