अखिलेश यादव के वैक्सीन बयान पर केशव प्रसाद मौर्या का पलटवार-कहा, ये वैज्ञानिकों का अपमान

अखिलेश यादव के बयान पर पलटवार करते हुये प्रदेश के उप मुख्यमंत्री और भाजपा नेता केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि अखिलेश यादव को टीके पर भरोसा नहीं है और यह देश के डॉक्टरों और वैज्ञानिकों का अपमान है.

अखिलेश यादव के वैक्सीन बयान पर केशव प्रसाद मौर्या का पलटवार-कहा, ये वैज्ञानिकों का अपमान

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि यह देश के डॉक्टरों और वैज्ञानिकों का अपमान है. (फाइल फोटो)

लखनऊ:

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को कहा कि वह भारतीय जनता पार्टी का कोरोना टीका नहीं लगवाएंगे और उनकी सरकार आने पर सभी को नि:शुल्क टीका लगेगा. पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश के इस बयान पर भाजपा सरकार और संगठन ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए इसे देश के वैज्ञानिकों और डॉक्टरों का अपमान बताया है. यादव ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘‘मैं तो नहीं लगवाउंगा अभी टीका, मैंने अपनी बात कह दी. वह भी भाजपा लगायेगी, उसका भरोसा करूं मैं. अरे जाओ भई, अपनी सरकार आयेगी तो सबको फ्री टीका लगेगा. हम भाजपा का टीका नहीं लगवा सकते.''

"पहले फेस में 3 करोड़ लोगों को फ्री में मिलेगी कोरोना वैक्सीन" : स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का बड़ा एलान

अखिलेश यादव के इस बयान के बाद कुछ समाचार चैनलों ने उनकी पार्टी के विधायक (एमएलसी) आशुतोष सिन्हा को उद्धृत करते हुए कहा कि “टीका लगवाने से व्यक्ति नपुंसक हो सकता है.” हाल ही में वाराणसी खंड स्नातक क्षेत्र से निर्वाचित सपा एमएलसी सिन्हा के इस विवादित बयान का कथित वीडियो वायरल हुआ जिसमें उन्हें यह कहते सुना जा रहा है, “हमें लगता है कि भाजपा वाले बाद में कह देंगे कि जनसंख्या कम करने के लिए, नपुंसक बनाने के लिए लगा दिया टीका.” खबर के मुताबिक, मिर्ज़ापुर में सिन्हा ने कहा कि समाजवादी पार्टी ही नहीं किसी को भी टीका नहीं लगवाना चहिए.

उधर, अखिलेश यादव के बयान पर पलटवार करते हुये प्रदेश के उप मुख्यमंत्री और भाजपा नेता केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि अखिलेश यादव को टीके पर भरोसा नहीं है और यह देश के डॉक्टरों और वैज्ञानिकों का अपमान है. उन्होंने कहा, ‘‘अखिलेश यादव जी को टीके पर भरोसा नहीं है और उत्तर प्रदेश वासियों को उनपर (अखिलेश यादव) भरोसा नहीं है. उनका टीके पर सवाल उठाना, हमारे देश के चिकित्सकों एवं वैज्ञानिकों का अपमान है जिसके लिए उन्हें माफ़ी मांगनी चाहिए.'' मौर्य ने कहा कि जो मुख्यमंत्री के पद पर रहा हो, उसे इस प्रकार का बयान देने से पहले गंभीरता से विचार करना चाहिए.

"BJP की वैक्सीन पर मैं कैसे विश्वास करूं," अखिलेश यादव बोले, पार्टी ने की माफी की मांग


अखिलेश यादव ने शनिवार शाम करीब सात बजे ट्वीट किया “हमें वैज्ञानिकों की दक्षता पर पूरा भरोसा है पर भाजपा की ताली-थाली वाली अवैज्ञानिक सोच और भाजपा सरकार की टीका लगवाने की उस चिकित्‍सा व्‍यवस्‍था पर भरोसा नहीं है, जो कोरोनाकाल में ठप सी पड़ी रही है. हम भाजपा की राजनीतिक वैक्‍सीन नहीं लगवाएंगे. सपा की सरकार टीका निशुल्क लगवाएगी.” इस बीच, भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष स्‍वतंत्र देव सिंह ने अखिलेश यादव को टैग करते हुए ट्वीट किया, “भ्रष्‍टाचार और गुंडाराज को समाप्‍त करने के लिए भाजपा की वैक्‍सीन कारगर साबित हुई है. आप कौन सी वैक्‍सीन की बात कर रहे हैं अखिलेश यादव जी.”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भाजपा के प्रदेश मंत्री डॉक्‍टर चंद्रमोहन ने अखिलेश यादव के बयान की निंदा करते हुए उनसे बयान वापस लेने की मांग की है. उन्‍होंने कहा, “टीका कभी पार्टी का नहीं बल्कि देश का होता है, वैज्ञानिकों के सपनों का होता है. अखिलेश यादव के मुंगेरीलाल के सपने कभी पूरे नहीं होंगे, क्‍योंकि जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के साथ है.”



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)