NDTV Khabar

मायावती ने कहा- रिश्‍ता वही, गठबंधन नहीं; विधानसभा उपचुनाव अपने दम पर

मायावती ने साफ कहा कि अखिलेश यादव से हमारे रिश्‍ते हमेशा बने रहेंगे. अखिलेश यादव और डिम्‍पल यादव ने मुझे बहुत इज्‍जत दी है और मैंने भी उन लोगों को परिवार की तरह माना है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मायावती ने कहा- रिश्‍ता वही, गठबंधन नहीं; विधानसभा उपचुनाव अपने दम पर

मायावती, मुलायम सिंह और अखिलेश यादव. (फाइल तस्वीर)

लखनऊ:

'यादवों ने समाजवादी पार्टी का साथ छोड़ दिया है. यादव बहुल इलाकों में भी समाजवादी पार्टी की हार हुई है. ऐसे में साथ बने रहने का कोई मतलब नहीं है.' यह कहना है बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती का. 03 जून को मायावती ने अपने आवास पर समीक्षा बैठक कर इस बात का ऐलान किया कि 11 विधानसभा क्षेत्रों में होने वाले उपचुनाव वह अकेले दमपर लड़ेंगी. मायावती ने कहा कि समीक्षा बैठक में जो बात निकलकर सामने आई उस पर हमें सोचने को मजबूर होना पड़ा. इसके बाद से यह साफ हो गया कि उत्‍तर प्रदेश में अब बसपा और सपा के बीच का गठबंधन खत्‍म हो गया है.


मायावती ने मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस कर इसकी पुष्टि भी कर दी. हालांकि मायावती ने साफ कहा कि अखिलेश यादव से हमारे रिश्‍ते हमेशा बने रहेंगे. अखिलेश यादव और डिम्‍पल यादव ने मुझे बहुत इज्‍जत दी है और मैंने भी उन लोगों को परिवार की तरह माना है. मायावती ने कहा कि अखिलेश से हमारे रिश्‍ते हमेशा बने रहेंगे.

अखिलेश-डिंपल से रिश्तों पर बोलीं मायावती- सारे मतभेद भूलकर मैंने भी उन्हें परिवार माना

गेस्‍ट हाउस कांड के बाद से बसपा और सपा के बीच रिश्‍ते में न पटने वाली दरार आ गई थी. 2019 का लोकसभा चुनाव उन दरारों को पाट कर मायावती और मुलायम सिंह यादव को एक मंच पर ला दिया. यह सब कुछ अखिलेश यादव के नेतृत्‍व में हुआ. अखिलेश यादव अक्‍सर मंचों पर मायावती को बुआ कहते रहे हैं. जब चुनावी गठबंधन का ऐलान हुआ तो एक मंच पर यादव परिवार के साथ मायावती भी दिखने लगीं. इसी दौरान कन्‍नौज की एक तस्‍वीर वायरल भी हुई थी.

मायावती ने दोबारा अखिलेश से हाथ मिलाने के दिए संकेत, पर उसके लिए रखी एक शर्त

कन्‍नौज से मुलायम सिंह यादव की बहु और अखिलेश यादव की पत्‍नी डिम्‍पल यादव चुनाव मैदान में थीं. वहां आयोजित चुनावी जनसभा में जब सपा प्रमुख अखिलेश यादव की पत्‍नी डिंपल यादव ने मंच पर मायावती के पांव छुए तो वह तस्‍वीर सोशल मीडिया में जमकर वायरल हुआ. अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल सिंह यादव ने तब तंज कसते हुए कहा था कि 'बहू डिंपल यादव ने बसपा सुप्रीमो के पांव छूकर समाजवाद को उनकी कदमों में रख दिया. इस पार्टी को बनाने में माननीय मुलायम सिंह यादव और मैंने सालों मेहनत किए थे.' शिवपाल अक्‍सर मायावती को अखिलेश के द्वारा बुआ कहे जाने पर भी तंज कसते रहे हैं. उनका कहना है कि जब मुलायम सिंह और मैंने कभी मायावती को बहन नहीं बनाया तो अचानक वो अखिलेश की बुआ कैसे बन गईं?

विधानसभा उपचुनाव में बीएसपी के अकेले लड़ने के फैसले पर अखिलेश यादव ने कहा- मुझे इसकी जानकारी नहीं

इससे पहले राष्‍ट्रीय जनता दल के नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव ने भी मायावती से मुलाकात की थी और उनके पैर छूकर आशीर्वाद लिया था. यह तस्‍वीर भी सोशल मीडिया में जमकर वायरल हुई थी. तेजस्वी ने सपा-बसपा गठबंधन (SP-BSP Alliance) पर अपनी खुशी जताई थी. मायावती (Mayawati) से मुलाकात के बाद आरजेडी नेता तेजस्वी ने कहा था कि अब यूपी और बिहार से बीजेपी का सफाया होगा. यूपी में बीजेपी एक भी सीट नहीं जीत पाएगी. मायावती से हमें मार्गदर्शन मिले, हम यही चाहते हैं. इनसे हमें सीखने का मौका मिलता है.

t97iq6t8

SP-BSP गठबंधन टूटने की खबरों पर BJP का तंज, यूपी के डिप्टी सीएम ने कही यह बात...

साथ ही तेजस्वी ने कहा था, सपा-बसपा गठबंधन से लोगों में खुशी है. आज ऐसा माहौल है जहां वे बाबा साहेब के संविधान को मिटाना चाहते हैं और 'नागपुर के कानूनों' को लागू करना चाहते हैं. लोग मायावती जी और अखिलेश जी द्वारा उठाए गए कदम का स्वागत करते हैं. यूपी और बिहार में बीजेपी का सफाया हो जाएगा. वे यूपी में 1 सीट भी नहीं जीत पाएंगे, सभी सीटें सपा-बसपा गठबंधन को मिलेंगी.

SP-BSP गठबंधन में दरार के बीच मायावती का बड़ा बयान- अखिलेश तो डिंपल को भी नहीं जीत दिला पाए, क्योंकि...

हालांकि, लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद बिहार में आरजेडी का सफाया हो गया और यूपी में सिर्फ मायावती को 10 सीटों पर कामयाबी मिली जबकि समाजवादी पार्टी सिर्फ 5 सीटों पर जीत दर्ज करने में कामयाब हो पाई. उसमें मुलायम परिवार के तीन सदस्‍य चुनाव हार गए. परिवार से सिर्फ मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव ही जीत दर्ज कर पाए.

टिप्पणियां

पी में मायावती के उप-चुनाव अकेले लड़ने के फैसले के बाद अखिलेश यादव ने लोकसभा चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन को लेकर दिया बयान, कही यह बात...

Video: बसपा के साथ गंठबंधन को लेकर सपा विधायक ने कहा- मायावती को हुआ फायदा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement