NDTV Khabar

गाजियाबाद में इमारत गिरने से महिला की मौत, आठ गंभीर रूप से घायल 

गाजियाबाद के शहर पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार बताया कि निर्माणाधीन इमारत की छत गिरने की घटना के घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गाजियाबाद में इमारत गिरने से महिला की मौत, आठ गंभीर रूप से घायल 

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: गाजियाबाद में इमारत गिरने की दो अलग अलग घटनाओं में एक महिला की मौत हो गयी जबकि आठ अन्य घायल हो गए. पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी. गाजियाबाद के शहर पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार बताया कि निर्माणाधीन इमारत की छत गिरने की घटना के घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उन्होंने बताया कि मरने वाली महिला की पहचान प्रवीन के रूप में की गयी है. हादसे के बाद उसे दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उसने दम तोड़ दिया. गौरतलब है कि पिछले महीने ही गाजियाबाद से सटे ग्रेटर नोएडा में एक ऐसा ही मामला सामने आया था. इस घटना में 9 लोगों की मौत हो गई थी. इस बाद में प्रशासन ने संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई भी की.

यह भी पढ़ें: गाजियाबाद में 5 मंजिला निर्माणाधीन इमारत गिरी, एक की मौत आठ घायल

ग्रेटर नोएडा के बिसरख थाना क्षेत्र के शाहबेरी में छह मंजिला इमारत गिरने और मौतों के बाद ग्रेटर नोएडा में विशेष कार्याधिकारी अधिकारी के पद पर तैनात विभा चहल को ओएसडी के पद से हटा कर विशेष सचिव कृषि उत्पादन शाखा बना दिया गया था. जबकि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सहायक प्रबंधक परियोजना अख्तर अब्बास जैदी और प्रबंधक परियोजना वी पी सिंह को भी निलंबित कर दिया गया है. वहीं एक ऐसा ही मामला गाजियाबाद में भी सामने आया था.

यह भी पढ़ें: नोएडा में निर्मांणाधीन मकान की दीवार गिरने से एक बच्चे की मौत, तीन घायल 

टिप्पणियां
गाजियाबाद में एक 5 मंजिला निर्माणाधीन इमारत गिर गई थी. इस घटना में अभी तक एक युवक की मौत और कइयों के गंभीर रूप से घायलो होने की खबर है. मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी के अनुसार यह इमारत मसूरी पुलिस थाना क्षेत्र के आकाश नगर में स्थित थी. इस हादसे में राहुल नाम के एक शख्स की मौत हो गयी. मलबे में दबे लोगों में मजदूर या उनके परिवार के लोग हैं. इस इमारत में निर्माण कार्य पिछले कई महीनों से चल रहा था.

VIDEO: गाजियाबाद में गिरी इमारत.

हादसे की वजह कमजोर पिलर और इमारत के आसपास भरा बारिश का पानी माना जा रहा है. इमारत के निर्माण में घटिया सामग्री का प्रयोग किया गया था.( इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement