बुलंदशहर कांड : इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी ने कहा, मिटाए जा रहे हैं हत्या के सबूत

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी रजनी और बेटे अभिषेक सिंह ने आरोपी योगेश राज की गिरफ्तारी न होने पर गहरा क्षोभ जताया

बुलंदशहर कांड : इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी ने कहा, मिटाए जा रहे हैं हत्या के सबूत

बुलंदशहर हिंसा में मृत इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी रजनी सिंह और पुत्र अभिषेक सिंह.

खास बातें

  • रजनी सिंह ने कहा- हत्या के सुबूत मिटाए जा रहे, सरकार कहती है दुर्घटना थी
  • हत्यारा योगेश राज खुला घूम रहा है, उस पर राजनीतिक लोगों का हाथ है
  • अभिषेक ने कहा- वीएचपी और बजरंग दल योगेश को बचाने की कोशिश कर रहे
बुलंदशहर:

बुलंदशहर में तीन दिसंबर को हुई हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या कर दी गई. इस मामले में पुलिस और प्रशासन की अब तक की कार्रवाई से सुबोध कुमार सिंह का परिवार संतुष्ट नहीं है. उनकी पत्नी रजनी ने कहा है कि उनके पति की हत्या हुई लेकिन सरकार अब कह रही है कि यह दुर्घटना थी. अगर ऐसा होता रहा तो कोई मां अपने बेटे को पुलिस में नहीं भेजेगी.

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी रजनी और बेटे अभिषेक सिंह से NDTV ने बातचीत की तो उन्होंने सरकार के रवैये पर गहरा क्षोभ जताया.  

रजनी सिंह ने कहा कि दुख होता कि देश की रक्षा करने वालों का किसी को खयाल नहीं है. हत्या के सुबूत मिटाए जा रहे हैं. सरकार कहती है कि यह दुर्घटना थी. मुझे बहुत दुख होता है यह सुनकर. मेरे पति की हत्या की गई. अगर ऐसी दुर्घटनाएं होती रहीं तो माएं अपने बेटों को पुलिस में नहीं भेजेंगी.

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश में कोई मॉब लिंचिंग नहीं, बुलंदशहर की घटना एक 'दुर्घटना': योगी आदित्यनाथ

उन्होंने कहा कि योगी जी ने आश्वासन दिया था. मैं योगी जी से पूछती हूं कि वह हत्यारा कैसे खुला घूम रहा है. योगेश राज पर राजनीतिक लोगों का हाथ है. सीबीआई से लेकर सब फोर्स हैं तो भी नहीं पकड़ पाए. योगेश राज ऊपर से अपना वीडियो वायरल कर रहा है. उन्होंने कहा कि मेरे पति को न्याय नहीं मिल रहा है. पुलिस कहां है? आज मेरे पति के साथ जो हुआ वह आपके साथ भी होगा.

यह भी पढ़ें : NDTV Exclusive: सुबोध कुमार सिंह के बेटे ने कहा- प्लीज बंद कीजिए हिंदू-मुस्लिम वायलेंस

सुबोध कुमार के बेटे अभिषेक ने कहा कि वीएचपी और बजरंग दल के लोग योगेश राज को बचाने की कोशिश कर रहे हैं. वह नहीं पकड़ा गया तो यह इंसानियत की हार होगी. देश की रक्षा करने वालों की रक्षा नहीं होती. आरोपी इनकी नाक के नीचे सरेंडर कर रहे हैं. अभिषेक ने कहा कि मेरा भाई IPS बनेगा और मैं वकील बनूंगा. मैं अपने पिता की मौत की फाइल खुलवाकर जांच करूंगा. ये लोग मुझे मजबूर न करें. मेरा देश खोखला न हो जाए, मुझे डर है.

Newsbeep

VIDEO : मिटाए जा रहे सुबूत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बुलंदशहर की घटना पर पूर्व में अभिषेक ने कहा था कि इस मॉब लिंचिंग कल्चर से कुछ हासिल नहीं होने वाला है. यदि हम हिंदू-मुस्लिम के नाम पर आपस में लड़ते रहे तो पाकिस्तान या चीन को कुछ करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.