CAA Protest: 15 लाख की भरपाई के नोटिस जारी करने के बाद अब हिंसा में शामिल उपद्रवियों के पोस्टर चौराहों पर लगाए

इस बीच हर दिन यूपी के अलग-अलग शहरों से हिंसा के दिन के नए-नए वीडियो सामने आ रहे हैं. अब यूपी पुलिस ने मेरठ का एक वीडियो जारी किया है, जिसमें प्रदर्शन में शामिल दो लोगों के हाथों में पिस्तौल दिख रहा है.

लखनऊ:

नागरिकता क़ानून को लेकर बीते शुक्रवार को यूपी के अलग-अलग शहरों में हुई हिंसा को लेकर यूपी पुलिस की सख़्ती शुरू हो गई है. रामपुर में सरकारी संपत्तियों को पहुंचे नुक़सान पर 28 लोगों को क़रीब 15 लाख की भरपाई का नोटिस जारी करने के बाद अब प्रशासन ने शहर के चौक-चौराहों पर हिंसा में शामिल उपद्रवियों के पोस्टर लगा दिए हैं. वीडियो फ़ुटेज के आधार पर सौ से ज़्यादा लोगों की पहचान कर उनकी तस्वीरें जारी की गई हैं. पुलिस आम लोगों से इनके बारे में जानकारियां साझा करने की अपील कर रही है, ताक़ि उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई की जा सके. 

इस बीच हर दिन यूपी के अलग-अलग शहरों से हिंसा के दिन के नए-नए वीडियो सामने आ रहे हैं. अब यूपी पुलिस ने मेरठ का एक वीडियो जारी किया है, जिसमें प्रदर्शन में शामिल दो लोगों के हाथों में पिस्तौल दिख रहा है. तस्वीरों में नीली जैकेट पहने शख़्स, जिसने चेहरे पर मास्क भी पहन रखा है वो गोली चलाते हुए भी दिख रहा है. पुलिस का कहना है कि इस तरह की परिस्थितियों के कारण उन्हें जवाबी कार्रवाई करनी पड़ी.

CM योगी के 'बदला' वाले बयान के बाद नुकसान की भरपाई के लिए रामपुर में 28 प्रदर्शनकारियों को नोटिस, टियर गैस, पैलेट बुलेट के दाम भी जोड़े

यूपी में हिंसक प्रदर्शनों के दौरान 21 लोगों की मौत हुई थी, जिसमें सबसे ज़्यादा छह मौतें मेरठ में ही हुई थीं. इसके बाद फिरोजाबाद में 4, कानपुर में 3, बिजनौर में 2, संभल में 2, वाराणसी में 1, लखनऊ में 1, मुजफ्फरनगर में 1 और रामपुर में 1 की मौत हुई है. 

Newsbeep

उत्तर प्रदेश में आगजनी और तोड़फोड़ पर एक्शन में योगी सरकार, भेज रही वसूली के नोटिस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें, उत्तर प्रदेश के रामपुर में पिछले सप्ताह नागरिकता कानून के खिलाफ हुए हिंसक प्रदर्शनों से हुए नुकसान की भरपाई के लिए दो दर्जन से ज्यादा लोगों को प्रशासन ने नोटिस जारी किए हैं. करीब 28 लोगों को नोटिस दिए गए हैं, जिसमें सार्वजनिक संपत्ति को हिंसा की वजह से हुए 14.86 लाख रुपये के नुकसान की भरपाई के लिए कहा गया है. बता दें, 21 दिसंबर को CCA के विरोध में रामपुर में हुए प्रदर्शन में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़प में पथराव, आगजनी और फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत हो गयी थी. जिसके बाद 4 मोटर साइकिलों और पुलिस की एक जीप को आग लगा दी गयी थी. गौरतलब है कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदर्शनकारियों पर कार्रवाई करते हुए कहा था कि सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों से हम 'बदला' लेंगे.