NDTV Khabar

केन्‍द्र और यूपी सरकार योजनाओं को लागू करने में कोई भेदभाव नहीं करती: सीएम योगी

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने गुरुवार को कहा कि केंद्र और राज्य सरकार ऐसी योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही है जो भेदभाव नहीं करते हैं. उन्‍होंने कहा कि हम अपनी योजनाएं हर व्यक्ति के पास लाने की कोशिश कर रहे हैं. मैं लखनऊ को कार्यक्रम के लिए चुनने के लिए जिम्मेदार लोगों का धन्यवाद करता हूं.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केन्‍द्र और यूपी सरकार योजनाओं को लागू करने में कोई भेदभाव नहीं करती: सीएम योगी

सीएम योगी ने कहा, केन्‍द्र और यूपी सरकार योजनाओं को लागू करने में कोई भेदभाव नहीं करती (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि हर कोई गरिमा के साथ रहना चाहता है
  2. भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और दुनिया के सामने एक उदाहरण है
  3. शरीर में कोई अंग कामकाज बंद कर देता है तो यह हमारे शरीर को अपंग करता है.
लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने गुरुवार को कहा कि केंद्र और राज्य सरकार ऐसी योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही है जो भेदभाव नहीं करते हैं. उन्‍होंने कहा कि हम अपनी योजनाएं हर व्यक्ति के पास लाने की कोशिश कर रहे हैं. मैं लखनऊ को कार्यक्रम के लिए चुनने के लिए जिम्मेदार लोगों का धन्यवाद करता हूं. 

यह भी पढ़ें : यूपी: पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ में 8 साल के बच्‍चे की गोली लगने से मौत

सीएम योगी ने कहा कि हम जब अल्पसंख्यक कल्याण के बारे में बात करते हैं, तो कई सवाल उठाए जाते हैं. हम सभी को यह स्वीकार करना होगा कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और यह पूरी दुनिया के सामने एक उदाहरण स्थापित करता है. इस मंत्रालय की एक बहुत महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है. यदि शरीर में कोई अंग कामकाज बंद कर देता है तो यह हमारे शरीर को अपंग करता है.
VIDEO: यूपी के रैन बसेरों में आधार 

उन्‍होंने कहा कि हर कोई गरिमा के साथ रहना चाहता है और हर व्‍यक्ति चाहता है कि स्वीकृत योजनाएं उसके पास तक पहुंचे. समस्या तब होती है जब योजनाओं को कार्यान्वित करने में उनकी जिम्मेदारी ढीली पड़ती है. 

टिप्पणियां
उल्लेखनीय है कि यूपी में स्वच्छ भारत मिशन के तहत बन रहे टॉयलेट भगवा रंगे जा रहे हैं. इटावा के अमृतपुर गांव में 350 शौचालय बनने हैं. सब गेरुआ रंगे जा रहे हैं. अखिलेश यादव ने कहा है कि टॉयलेट को भगवा रंगना धर्म का अपमान है. इसके पहले सीएम ऑफिस…थाने, सरकारी स्कूल और कई नगर निगमों की इमारतें भगवा रंगी जा चुकी हैं. इस पूरे मामले पर अभी तक 

स्वच्छ भारत मिशन में इटावा शहर से सटे हुए गांव अमृतपुर में 350 टॉयलेट बनने हैं. सारे टॉयलेट को भगवा पैंट करने का फ़ैसला किया गया है.100 टॉयलेट बनकर तैयार हो गए हैं, जिन पर भगवा पुताई हो चुकी है.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement