NDTV Khabar

गोरक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेने वालों की खैर नहीं, सीएम योगी ने दिए कार्रवाई के निर्देश

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह ने गोरक्षा के नाम पर अति उत्साह में कानून हाथ में लेने वालों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई के निर्देश दिये हैं. राज्य पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता ने आज बताया कि पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ने कहा कि समाज में कुछ व्यक्ति या संगठन गोरक्षा के नाम पर अति उत्साह में कानून को अपने हाथ में लेते हैं. वे पुलिस को ऐसे प्रकरणों की सूचना देने की बजाय स्वयं अनधिकृत रूप से मनमानी कार्रवाई शुरू कर देते हैं.

134 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
गोरक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेने वालों की खैर नहीं, सीएम योगी ने दिए कार्रवाई के निर्देश

गोरक्षा के नाम पर होने वाली गुड़ागर्दी को रोकने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ सख्त...

लखनऊ: गोरक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेने वालों पर कार्रवाई करने का मन योगी सरकार ने बना लिया है. गोरक्षा के नाम पर होने वाली गुड़ागर्दी को रोकने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कार्रवाई के निर्देश दिए है. उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह ने गोरक्षा के नाम पर अति उत्साह में कानून हाथ में लेने वालों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई के निर्देश दिये हैं. राज्य पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता ने आज बताया कि पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ने कहा कि समाज में कुछ व्यक्ति या संगठन गोरक्षा के नाम पर अति उत्साह में कानून को अपने हाथ में लेते हैं. वे पुलिस को ऐसे प्रकरणों की सूचना देने की बजाय स्वयं अनधिकृत रूप से मनमानी कार्रवाई शुरू कर देते हैं.

डीजीपी ने कहा, "यह पूर्ण रूप से अवैधानिक प्रक्रिया है जिससे कानून व्यवस्था की समस्याएं पैदा होती हैं." उन्होंने जिलों के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए कि अगर अति उत्साह में कानून का उल्लंघन किया जाता है तो प्राथमिकी दर्ज कर संबंधित व्यक्तियों या संगठनों के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जाए.

सिंह ने कहा कि दुधारू पशुओं के अवैध परिवहन के संबंध में थाना प्रभारियों को जागरूक रहने के साथ साथ खुफिया तंत्र को और सक्रिय किया जाए ताकि दुधारू पशुओं का अवैध परिवहन किसी भी स्थिति में ना होने पाए. उन्होंने निर्देश दिया कि अति उत्साही लोगों को चिन्हित कर उनके डोजियर बनाये जाएं. ऐसे व्यक्तियों या संगठनों से संपर्क कर उन्हें बताया जाए कि उन्हें इस प्रकार कानून को हाथ में लेने का अधिकार नहीं है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement