NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश में लापरवाही बरतने वाले 11 अधिकारी नपे, मुख्यमंत्री ने किया सस्पेंड

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्य में लापरवाही बरतने वाले 11 अधिकारियों को गुरुवार को निलंबित कर दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश में लापरवाही बरतने वाले 11 अधिकारी नपे, मुख्यमंत्री ने किया सस्पेंड

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार इस बात को कहते हैं कि काम में लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी

खास बातें

  1. मुख्यमंत्री ने महाराजगंज में अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक
  2. चार माह से गायब चल चार डॉक्टरों के खिलाफ जांच के आदेश
  3. पुरेंदरपुर और फरेंदा के थाना प्रभारियों को निलंबित करने का आदेश
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्य में लापरवाही बरतने वाले 11 अधिकारियों को गुरुवार को निलंबित कर दिया जबकि सात अन्य के तबादले के आदेश दिए. योगी ने महाराजगंज जिले की समीक्षा बैठक के दौरान ये आदेश दिए. मुख्यमंत्री ने दो थानेदारों को निलंबित करने का निर्देश दिया और लापरवाही के मामले में नौतनवां के एसडीएम को मुख्यालय से संबद्ध करने के लिए कहा.

यह भी पढ़ें: कल्याणकारी योजनाओं को आम जन तक पहुंचाएं कार्यकर्ता : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री ने चार माह से गायब चल रहे चार डॉक्टरों के खिलाफ जांच के आदेश भी जारी किए. योगी ने उक्त आदेश समीक्षा बैठक के दौरान उस समय दिये, जब वह जनसमस्याओं की सुनवाई के संबंध में अधिकारियों से स्पष्टीकरण ले रहे थे.


यह भी पढ़ें: योगी की चेतावनी : सफाई की समुचित व्यवस्था नहीं करने वाले अधिकारियों पर होगी सख्त कार्रवाई

काम में लापरवाही और अन्य शिकायतें मिलने के बाद पुरेंदरपुर और फरेंदा के थाना प्रभारियों को निलंबित करने का आदेश जारी किया. योगी आदित्यनाथ ने लंबे समय से गायब चल रहे चिकित्सकों के मामले में कहा कि यदि उनके खिलाफ शिकायतें सही पाई जाती हैं तो उनका चार माह का वेतन वापस लिया जायेगा.

VIDEO: उत्तर प्रदेश पीएससी की भर्तियों पर सीबीआई की जांच
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कई निर्देश दिए और जनता से जुड़े कामों में लापरवाही बरतने पर उन्हें सख्त अंजाम भुगतने की चेतावनी भी दी.

टिप्पणियां

इससे पहले योगी ने यहां भाजपा कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद करते हुए आहवान किया कि केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा जन कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रहीं है, उसे आम जन तक ले जाना पार्टी कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी है. उन्होंने कहा कि योजनाएं पात्रों तक पहुंचें, इसका शत-प्रतिशत अनुपालन कराया जाए. योगी ने कार्यकर्ताओं को नसीहत देते हुए कहा कि नकारात्मक सोच से दूर रहते हुए सकारात्मक चर्चा जनता के बीच करें. 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement