NDTV Khabar

सत्ता के संरक्षण में पलने वाले गुंडे माफ़िया यूपी छोड़कर चले जाएं : CM योगी आदित्‍यनाथ

733 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. योगी ने इशारों में कहा, 'कोई भी नेता या पार्टी का पदाधिकारी ठेका न लें'
  2. हम मौज-मस्ती करने नहीं आए हैं, हमें यूपी में 18 से 20 घंटे काम करना है
  3. योगी ने भरोसा दिलाया और कहा कि महिलाओं की सुरक्षा उनकी प्राथमिकता है
गोरखपुर: यूपी की कमान संभालने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहली बार गोरखपुर पहुंचे हैं और जबसे वो गोरखपुर पहुंचे हैं उनके सख़्त तेवर सामने आ रहे हैं. उन्होंने अपराधियों को साफ़ शब्दों में कहा है कि सत्ता के संरक्षण में पलने वाले गुंडे माफ़िया यूपी छोड़कर चलें जाएं, वरना अंजाम भुगतने को तैयार रहें. उन्होंने नेताओं को इशारा किया कि कोई भी नेता या पार्टी का पदाधिकारी कोई ठेका न लें और अफ़सरों को भी सख़्त शब्दों में कहा कि हम मौज मस्ती करने नहीं आए हैं, 18 से 20 घंटे काम करने आए हैं. जो लोग 20 घंटे काम कर सकते हैं वही साथ रहें वरना चले जाएं. योगी ने संसद में आख़िरी भाषण देते वक्त कहा था कि यूपी में काफी कुछ बंदी होने वाली है. पहले बूचड़खाने पर सख़्ती फिर एंटी रोमियो स्कवॉड का गठन. योगी ऐक्शन में हैं और पहले दिन से ही उन्होंने तेवर सख़्त किए हुए हैं.

गोरखपुर यात्रा पर अपने दूसरे दिन की शुरुआत उन्होंने गौसेवा से की. लोगों को भी संबोधित किया. योगी ने आश्वासन भी दिया कि उनकी सरकार किसी का तुष्टिकरण नहीं करेगी. योगी ने कानून व्यवस्था को लेकर लोगों को भरोसा दिलाया और कहा कि महिलाओं की सुरक्षा उनकी प्राथमिकता है.

दूसरे दिन गोरखनाथ मंदिर के दिग्विजय स्मृति सभागार में रविवार को बाबा गंभीरनाथ शताब्दी पुण्यतिथि का समापन समारोह शुरू हुआ. मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी समारोह में शामिल हुए और कार्यक्रम की अध्यक्षता की. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, इस दौरान आदित्यनाथ योगी ने कहा, 'तुलसीदास जी ने कभी अकबर को राजा नहीं माना, उनका कहना था कि उनके राजा भगवान राम हैं.'

तुलसीदास जी ने अकबर को कभी भी राजा नहीं माना : CM योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार गोरखपुर की जनता के बीच पहुंचे योगी का जोरदार स्वागत किया. सीएम योगी आदित्यनाथ का गोरखपुर में दूसरा दिन है. दूसरे दिन गोरखनाथ मंदिर के दिग्विजय स्मृति सभागार में रविवार को बाबा गंभीरनाथ शताब्दी पुण्यतिथि का समापन समारोह शुरू हुआ. मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी समारोह में शामिल हुए और कार्यक्रम की अध्यक्षता की. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, इस दौरान आदित्यनाथ योगी ने कहा, 'तुलसीदास जी ने कभी अकबर को राजा नहीं माना, उनका कहना था कि उनके राजा भगवान राम हैं.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement