NDTV Khabar

कांग्रेस को मजबूत करने के लिए स्कूलों में परीक्षा, सवाल पूछा गया- किस बीजेपी नेता ने कहा था अगर मैं जिंदा हूं तो राजीव गांधी की वजह से

दिलचस्प है कि इस प्रश्न पत्र में एक सवाल भाजपा से भी जुड़ा था और वह सवाल था कि मानवीय मूल्य को सराहते हुए यह वक्तव्य किस भाजपा नेता ने दिया था, “अगर मैं जिंदा हूं तो राजीव गांधी की वजह से.”

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस को मजबूत करने के लिए स्कूलों में परीक्षा, सवाल पूछा गया- किस बीजेपी नेता ने कहा था अगर मैं जिंदा हूं तो राजीव गांधी की वजह से

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में अपनी जड़ें मजबूत करने के लिए कांग्रेस पार्टी ने अगले कुछ वर्षों में मतदाता बनने जा रहे किशोरों के लिए ‘‘मैं युवा हूं और मेरा भी एक सपना है'' शीर्षक से रविवार को सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता आयोजित की. प्रयागराज के केपी इंटरमीडिएट कॉलेज में आयोजित इस प्रतियोगिता में ज्यादातर प्रश्न राजीव गांधी, इंदिरा गांधी और जवाहर लाल नेहरू की उपलब्धियों से संबंधित थे. प्रतियोगिता में शहर के विभिन्न विद्यालयों के कक्षा 8 से 12 तक के छात्र छात्राएं शामिल हुए. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता किशोर वार्ष्णेय ने बताया कि प्रदेश के सभी 75 जिलों में यह प्रतियोगिता आयोजित कराई गई है.  देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी की 75वीं जयंती पर यह प्रतियोगिता आयोजित की गई. परीक्षा में ओएमआर शीट पर कुल 60 प्रश्न पूछे गए जिनमें प्रत्येक प्रश्न के सामने सही उत्तर पर निशान लगाने के लिए चार विकल्प दिए गए थे. इस परीक्षा में 35-36 प्रश्न राजीव गांधी से जुड़े थे और करीब 10-12 प्रश्न कांग्रेस पार्टी, इंदिरा गांधी, जवाहर लाल नेहरू, सरदार वल्लभ भाई पटेल से जुड़े थे.

दलित मतदाताओं को लामबंद करने के लिए 'संविधान से स्वाभिमान यात्रा' निकालेगी : कांग्रेस


दिलचस्प है कि इस प्रश्न पत्र में एक सवाल भाजपा से भी जुड़ा था और वह सवाल था कि मानवीय मूल्य को सराहते हुए यह वक्तव्य किस भाजपा नेता ने दिया था, “अगर मैं जिंदा हूं तो राजीव गांधी की वजह से.” एक घंटे की परीक्षा देकर निकले विद्यार्थियों को प्रतिभागिता प्रमाण पत्र भी दिया गया जिसमें अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव प्रियंका गांधी, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर, कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू और प्रतियोगिता आयोजन समिति के संयोजक सचिन नाईक के हस्ताक्षर हैं.

आरिफ मोहम्मद खान बने केरल के राज्यपाल, कलराज मिश्रा को बनाया गया राजस्थान का गवर्नर

जीजीआईसी की कक्षा 8 की छात्रा मल्लिका पांडेय ने बताया, “परीक्षा में छात्र-छात्राओं की संख्या इतनी अधिक थी कि आधे लोगों को जमीन और सीढ़ियों पर बैठकर परीक्षा देनी पड़ी. सामान्य ज्ञान के नाम पर राजीव गांधी, इंदिरा गांधी पर सवाल भरे पड़े थे.” जीआईसी के कक्षा आठ के छात्र रोहित पाल ने बताया कि प्रश्न पत्र में राजीव गांधी के बारे में पूछा गया था जैसे उन्होंने कौन-कौन सी योजनाएं चलाईं. कुछ प्रश्न सामान्य ज्ञान के भी थे जैसे इसरो का गठन कब हुआ. शिवकुटी स्थित एसएमपीपीएस स्कूल की कक्षा 10 की एक छात्रा ने बताया कि हर क्लास में बच्चे जमीन पर बैठे थे, सीढ़ियों पर बैठे थे. बिना मतलब का एक्जाम था यह. किसी को इसका फायदा नहीं होने वाला. मेरे हिसाब से यह जनरल नॉलेज नहीं था क्योंकि जनरल नॉलेज में किसी एक व्यक्ति के बारे में नहीं पूछा जाता, बल्कि अलग अलग विषयों से प्रश्न पूछे जाते हैं. यह पूछे जाने पर कि इस प्रतियोगिता में जीतने पर क्या पुरस्कार मिलेगा, एक छात्रा ने बताया कि प्रथम पुरस्कार के तहत लैपटॉप, द्वितीय पुरस्कार के तहत मोबाइल फोन और तृतीय पुरस्कार के तहत साइकिल दी जाएगी. 

मध्‍यप्रदेश और हरियाणा में कांग्रेस में जारी है खटपट​

टिप्पणियां



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement