प्रियंका गांधी का अमेठी डीएम पर निशाना, कहा- ऐसा शर्मनाक व्यवहार आए दिन होता है

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने निशाना साधा और कहा कि भाजपा सरकार में प्रशासन का बल अपराधियों पर तो चलता नहीं, पर शर्मनाक व्यवहार आए दिन होता है.

प्रियंका गांधी का अमेठी डीएम पर निशाना, कहा- ऐसा शर्मनाक व्यवहार आए दिन होता है

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • अमेठी में जिलाधिकारी की अभद्रता का वीडियो वायरल हो रहा है
  • भाजपा सरकार में प्रशासन का बल अपराधियों पर नहीं चलता
  • पीड़ित परिवार के लोगों से इस तरह का शर्मनाक व्यवहार होता है
अमेठी:

उत्तर प्रदेश के अमेठी में जिलाधिकारी की अभद्रता का वीडियो वायरल हो रहा है. इसे लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने निशाना साधा और कहा कि भाजपा सरकार में प्रशासन का बल अपराधियों पर तो चलता नहीं, पर शर्मनाक व्यवहार आए दिन होता है. प्रियंका गांधी ने गुरुवार को अपने फेसबुक वाल पर अमेठी की घटना का वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि "ये कौन सा व्यवहार है डीएम साहेब? इस वीडियो में अमेठी के कलेक्टर महोदय जिस व्यक्ति से दुर्व्यवहार कर रहे हैं उनके भाई की कल बदमाशों ने हत्या कर दी थी. भाजपा सरकार में प्रशासन का बल अपराधियों पर तो नहीं चलता है. लेकिन, पीड़ित परिवार के लोगों से इस तरह का शर्मनाक व्यवहार आए दिन होता है."

भाई ने दो बहनों की तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ कर बनाया ऐसा Video, देखकर पुलिस ने किया ऐसा...

गौरतलब है कि पूरा मामला अमेठी के जिला मुख्यालय गौरीगंज के कोतवाली क्षेत्र के मुसाफिरखाना मार्ग पर स्थित बिशुनदासपुर का है. जहां कस्बे में ही रहने वाले अर्पित और चंद्रशेखर के बीच एक पुराने विवाद को लेकर बहस हो गई. दोनों के बीच विवाद बढ़ता देख पास में ही मौजूद भाजपा नेता शिवनायक सिंह के बेटे और भट्ठा व्यवसायी सोनू सिंह बीच-बचाव करने पहुंचे. इस पर चंद्रशेखर ने सोनू पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं और मौके से फरार हो गया. गंभीर रूप से घायल सोनू को जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

Newsbeep

वरमाला के बाद दूल्हे ने किया Nagin Dance, देखकर शादी तोड़कर भागी दुल्हन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग पहुंची. इस दौरान उन्हें परिजनों के विरोध का सामना करना पड़ा. परिजनों के साथ ही ग्रामीणों ने एसपी के सामने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. दिनदहाड़े सरेबाजार हुई युवक की हत्या के बाद पूरे कस्बे में तनाव की स्थिति बनी हुई है, जिसके बाद मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है. वहीं पोस्टमार्टम के दौरान डीएम मौके पर पहुंचे तो ये घटना सामने आई. यहां भाजपा नेता के बेटे की हत्या के बाद गुस्साई भीड़ को समझाने की बजाए अमेठी के डीएम प्रशांत शर्मा अपना आपा खो बैठे और मृतक के भाई और पेशे से प्रशिक्षु पीसीएस अधिकारी की कलर पकड़कर डांटने लगे.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)