NDTV Khabar

यूपी निकाय चुनाव में बुरी तरह हुई हार की समीक्षा करेगी कांग्रेस

कांग्रेस का कहना है कि सत्तारूढ़ दल के इशारे पर जिस प्रकार चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास किया गया, उसके बावजूद पार्टी ने अपनी जबर्दस्त उपस्थिति दर्ज कराई है.

455 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी निकाय चुनाव में बुरी तरह हुई हार की समीक्षा करेगी कांग्रेस

यूपी निकाय चुनाव में कांग्रेस अमेठी में भी बुरी तरह हार गई है

लखनऊ: उत्तर प्रदेश निकाय चुनावके परिणाम आने के बाद कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि वह चुनाव में मिले जनादेश का सम्मान करती है और प्रदेश के जागरूक मतदाताओं के प्रति आभार व्यक्त करती है. पार्टी ने कहा है कि निकाय चुनाव के परिणामों का पार्टी का प्रदेश नेतृत्व विस्तृत समीक्षा करेगा. प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता कृष्णकांत पांडेय ने शुक्रवार को कहा, "सत्तारूढ़ दल के इशारे पर जिस प्रकार चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास किया गया, उसके बावजूद नगर निगमों, नगर पालिका परिषदों एवं नगर पंचायतों में कांग्रेस पार्टी ने अपनी जबर्दस्त उपस्थिति दर्ज कराई है और कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में आम जनता दिखाई दी है."

बीजेपी के 'जनेऊ जाल' में फंस गई कांग्रेस!

पांडेय ने कहा, "किंतु, चुनाव परिणाम आशा के अनुरूप न आने पर कांग्रेस उन कारणों पर विस्तृत विचार विमर्श करेगी. कुछ दिन पूर्व तक प्रदेश में कांग्रेस के पक्ष में माहौल दिख रहा था, परंतु किन गड़बड़ियों के चलते, चाहे उसमें ईवीएम रही हो, मतदाता सूची रही हो, प्रशासनिक दुरुपयोग रहा हो या कोई और गड़बड़ी रही हो, पार्टी का प्रदेश नेतृत्व इसकी विस्तृत समीक्षा करेगा." 

टिप्पणियां
वीडियो : 16 नगर निगमों में से 14 पर कब्जा

प्रवक्ता ने कहा, "निकाय चुनाव परिणाम से यह साबित हो गया है कि भाजपा की लोकप्रियता पिछले निकाय चुनाव की तुलना में केंद्र एवं प्रदेश में सत्ता में रहने के बावजूद काफी घटी है और आम जनता में केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार के प्रति आक्रोश बढ़ा है. उप्र में पहली बार प्रदेश के मुख्यमंत्री चुनाव की कमान स्वयं संभाल रहे थे, इन सबके बावजूद पूरे प्रदेश में कांग्रेस पार्टी को आम जनता का समर्थन मिला है."

इनपुट : आईएनएस


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement