Coronavirus UP News: कोविड-19 के 125 नए मामले सामने आए, संक्रमितों की संख्या पहुंची 1000 के करीब

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 125 नये मामले सामने आए हैं, इसके साथ ही शनिवार को राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 974 हो गई.

Coronavirus UP News: कोविड-19 के 125 नए मामले सामने आए, संक्रमितों की संख्या पहुंची 1000 के करीब

शनिवार को 125 नये मामले आये जिनमें से तबलीगी जमात के 86 सदस्य हैं

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 125 नये मामले सामने आए हैं, इसके साथ ही शनिवार को राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 974 हो गई. स्वास्थ्य विभाग की बुलेटिन में बताया गया कि राज्य में अब तक 108 लोग उपचारित होकर घर जा चुके हैं. शनिवार को 125 नये मामले आये जिनमें से तबलीगी जमात के 86 सदस्य हैं.  बुलेटिन के अनुसार राज्य में अब तक कोरोना संक्रमण से 14 मौतें हई हैं. आगरा में सबसे अधिक पांच लोग की मौत हुई है. मुरादाबाद और मेरठ में दो-दो और लखनऊ, कानपुर, बस्ती, बुलंदशहर एवं वाराणसी में एक-एक मौत हुई है. अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने एक संयुक्त प्रेस वार्ता में कहा, "मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निराश्रित लोगों के लिए एक-एक हजार रुपये की धनराशि की व्यवस्था करायी है. 

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने विशेष रूप से इसकी समीक्षा की और निराश्रित लोगों के लिए एक-एक हजार रुपये की धनराशि दी गई है. मुख्यमंत्री ने शहरी और ग्रामीण इलाकों में निराश्रित लोगों को चिह्नित कर एक-एक हजार रुपये देने का निर्देश दिया है. अपर मुख्य सचिव ने बताया कि अब तक 23 लाख 70 हजार श्रमिकों को सरकार ने अपने संसाधन से 236. 98 करोड रुपये भरण पोषण भत्ते के रूप में दिए हैं.उन्होंने बताया कि शहरी क्षेत्रों में कुली, रिक्शे वाले, ई-बैटरी चालकों सहित कई श्रमिकों को एक-एक हजार रुपये मुहैया कराये गये हैं. कुल मिलाकर पांच लाख 82 हजार लोगों को शहरी क्षेत्र में और चार लाख से अधिक लोगों को ग्रामीण क्षेत्र में यह राशि दी गयी है. 

अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये हैं कि अगर कोई छूट भी गये हैं तो उन्हें युद्धस्तर पर पंजीकृत करके मदद पहुंचायी जाए. अवस्थी के साथ प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने भी प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया. प्रसाद ने बताया कि प्रयागराज और बरेली सहित कुछ और जिले हैं, जहां कोविड-19 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा रही है. उन्होंने कहा, "बाकी जिलों में जहा, संक्रमण कम था, वहां स्थिति लगातार नियंत्रित होती जा रही है."प्रसाद ने बताया कि 1025 लोग ''पृथक वार्ड'' में हैं और 10, 814 लोग पृथकवास में हैं। हमारे पास पृथकवास वार्ड में दस हजार बिस्तर हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com