NDTV Khabar

आज बनारस में देव दीपावली का आयोजन, शामिल होंगे लालकृष्ण आडवाणी, गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदी बेन

दशाश्वमेघ और शीतला घाट की गंगा आरती मुख्य आकर्षण का केंद्र होगी और पुष्पवर्षा हेलीकॉप्टर से होगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आज बनारस में देव दीपावली का आयोजन, शामिल होंगे लालकृष्ण आडवाणी, गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदी बेन
बनारस: आज बनारस में देव दीपावली मनायी जा रही है. ऐसी मान्यता है कि दीपावली के 15 दिनों बाद कार्तिक पूर्णिमा के दिन सभी देवता बनारस गंगा के किनारे दीपावली मनाने आते है. लिहाज़ा सभी घाटों और कुंड की विधिवत सफ़ाई की जाती है. फिर दीयों से इनका श्रृंगार होता है जिसका नज़ारा अद्भुत होता है. गंगा तट पर इस अलौकिक छटा को देखने के लिये देश विदेश के एक लाख से भी ज़्यादा पर्यटकों ने बनारस में डेरा जमा लिया है.

टिप्पणियां
देव दीपावली के उत्सव में भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल सहित कई नामी हस्तियां शामिल हो रही हैं. से तो देव दीपावली की परम्परा काफ़ी पुरानी है, लेकिन बीते तीन दशकों में ये काफ़ी वृहद रूप धारण कर चुका है. क़रीब 35 साल पहले इसे एक आयोजन के रूप में पंचगंगा घाट से शुरू किया गया था.
 
dev deepawali 650
देव दीपावली आज बनारस के सभी 87 घाटों पर मनाई जाती है. बनारस के कुंड भी दीयों से जगमगाएंगे और तकरीबन एक दर्जन घाटों पर गंगा आरती होगी.

दशाश्वमेघ और शीतला घाट की गंगा आरती मुख्य आकर्षण का केंद्र होगी और पुष्पवर्षा हेलीकॉप्टर से होगी. बनारस के 87 और 20 कुंडों पर 51 लाख दीये जलाने की तैयारी है. इसके लिए 100 से ज़्यादा समितियां लगी हुई है. कोई गड़बड़ी न हों इसके लिए 10 हज़ार से ज़्यादा वालेंटियर घाट पर रहेंगे. इसके लिए तकरीबन 60 लाख दीयों की ख़रीदारी हुई है जिसमें 50 हज़ार लीटर तेल की खपत होने की संभावना है. 2 लाख दीये गंगा किनारे रेती पर जलेंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement