NDTV Khabar

मेरे भाई पर हमले के पीछे बीजेपी सांसद कमलेश पासवान और सतीश नगलिया का हाथ : डॉक्टर कफील खान

कफील ने कहा, 'पासवान की मेरे भाई से कोई सीधे दुश्मनी नहीं है. दरअसल मेरे चाचा की जमीन पर कमलेश और सतीश नगलिया ने कब्जा कर रखा है. इस बारे में एफआर भी दर्ज है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मेरे भाई पर हमले के पीछे बीजेपी सांसद कमलेश पासवान और सतीश नगलिया का हाथ : डॉक्टर कफील खान

डॉक्टर कफील खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये आरोप लगाये हैं.

खास बातें

  1. कफील खान का बड़ा आरोप
  2. बीजेपी सांसद कमलेश पासवान पर आरोप
  3. भाई पर हुआ था जानलेवा
गोरखपुर: गोरखपुर अस्पताल में हुई बच्चों की मौत के मामले में जेल जा चुके सरकारी डॉक्टर कफील खान ने बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि उनके भाई काशिफ पर गोली चलाने के पीछे बीजेपी सांसद कमलेश पासवान और बलदेव प्लाजा के मालिक सतीश नगलिया हैं. डॉक्टर ने कफील ने कहा है कि इन लोगों ने शूटर तय किये थे. कफील ने कहा, 'पासवान की मेरे भाई से कोई सीधे दुश्मनी नहीं है. दरअसल मेरे चाचा की जमीन पर कमलेश और सतीश नगलिया ने कब्जा कर रखा है. इस बारे में एफआर भी दर्ज है. इन लोगों ने गिरफ्तारी से बचने के लिये हाईकोर्ट से स्टे लेने की कोशिश भी की है.'  डॉक्टर कफील ने मांग की है कि इस मामले की जांच अब सीबीआई करे या फिर हाईकोर्ट के जज के निगरानी में हो. उन्होंने कहा, 'अब मैं यूपी पुलिस से जांच नहीं करवाना चाहता हूं'.

 
उत्तर प्रदेश : डॉक्टर कफील खान के भाई को बदमाशों ने मारी गोली, परिवार ने मांगी सुरक्षा

टिप्पणियां
आपको बता दें कि गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में पिछले साल संदिग्ध परिस्थितियों में बड़ी संख्या में भर्ती मरीज बच्चों की मौत के मामले के आरोपी डॉक्टर कफील खान के भाई को बीते 10 जून को मोटरसाइकिल सवार कुछ बदमाशों ने गोली मारकर गंभीर रुप से घायल कर दिया था.  कफील ने इस वारदात के बाद ट्वीट कर कहा “अल्लाह रहम करे. मैं झुकने वाला नहीं हूं.” उनके परिवार ने पुलिस सुरक्षा की मांग की थी. पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि रविवार रात करीब 11 बजे कुछ मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने हुमायूंपुर उत्तरी क्षेत्र में जेपी हॉस्पिटल के पास डॉक्टर कफील खान के भाई काशिफ (34) पर गोलियां चलायीं जो उनकी बांह, गर्दन और ठुड्डी पर लगीं. उनका आपरेशन किया गया है. उनकी हालत स्थिर है. 

गोरखपुर हादसे में जेल जा चुके हैं डॉक्टर कफील

इससे पहले उन्होंने आरोप लगाया था कि गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन आपूर्ति बाधित होने के बड़े दोषी लोग अब भी कानून के शिकंजे से बाहर हैं और हमें उनसे डरे हुए हैं. हमारी जिंदगी खतरे में है.” इस बीच, खान की मां नुजहत परवीन ने भी पुलिस सुरक्षा की मांग की है. उन्होंने कहा ‘‘मेरा पूरा परिवार खतरे में है. मैं प्रशासन और राज्य सरकार से अपील करती हूं कि हमें पुलिस सुरक्षा मुहैया करायी जाए.” गोरखपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर ने कहा कि इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. पुलिस सभी सम्भावित पहलुओं को ध्यान में रखकर जांच कर रही है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement