NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की वजह से जेल में भी भरा पानी, दूसरे जेल में शिफ्ट किए जाएंगे 500 कैदी

बलिया के डीएम राम आश्रय ने कहा कि लगातार चार दिन की मुसलाधार बारिश के बाद जेल में पानी भर गया है. जेल के बाहर भी ऐसी ही हालात हैं. इस वजह से ही हम जेल से पानी बाहर नहीं निकाल पा रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की वजह से जेल में भी भरा पानी, दूसरे जेल में शिफ्ट किए जाएंगे 500 कैदी

यूपी के जेल में भरा पानी

खास बातें

  1. उत्तर प्रदेश के जेल में भरा पानी
  2. भारी बारिश की वजह से कैदी किए जाएंगे शिफ्ट
  3. आजमगढ़ की जेल में शिफ्ट किए जाएंगे कैदी
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के बलिया में हो रही तेज बारिश की वजह से जेल में पानी भरने लगा है. ऐसे में अब प्रशासन ने यहां कैद 500 कैदियों को दूसरे जेल में शिफ्ट करने की तैयारी में है. ये सभी जेल गंगा नदी से ज्यादा दूरी पर नहीं है. इस वजह से नदी के जलस्तर में हुई बढ़ोतरी के बाद यहां पानी घुस गया है. बता दें कि उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में बीते कुछ दिनों से लगातार बारिश हो रही है. इस वजह से हर तरफ जलजमाव की स्थिति है.

उत्तर प्रदेश -बिहार के लिए अगले 48 घंटे बेहद अहम, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

बलिया के डीएम राम आश्रय ने कहा कि लगातार चार दिन की मुसलाधार बारिश के बाद जेल में पानी भर गया है. जेल के बाहर भी ऐसी ही हालात हैं. इस वजह से ही हम जेल से पानी बाहर नहीं निकाल पा रहे हैं. उन्होंने कहा कि जेल के तीन बैरक में पानी घुस गया है. इस वजह से हमनें 950 में से 500 कैदियों को राज्य के दूसरे जेल में भेजने का फैसला किया है. इन कैदियों में 45 महिलाएं हैं. इन सभी कैदियों को आजमगढ़ के जेल में भेजा गया है.


गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश और बिहार में अगले 48 घंटे बेहद अहम बताए जा रहे हैं. मौसम विभाग ने रविवार को कहा था कि दोनों ही राज्यों के अगले दो से तीन दिन बेहद अहम होने वाले हैं. इस दौरान दोनों ही राज्यों में भारी से भारी बारिश का अनुमान जताया गया है. विभाग के इस अलर्ट ने राज्य सरकारों की मुश्किलें और बढ़ा दी है. बिहार में लगातार हो रही बारिश और मौसम विभाग के अलर्ट के बाद सीएम नीतीश कुमार ने भारतीय एयरफोर्स से मदद मांगी है. वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में सभी अधिकारियों की छुट्टी को रद्द कर दिया है.

भारी बारिश के कहर के चलते योगी सरकार ने रद्द की अधिकारियों की छुट्टी

बता दें कि इन दोनों राज्यों में अभी तक बारिश की वजह से 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. अकेले यूपी में कुल 93 लोगों की मौत हुई है. बिहार में शुक्रवार से हो रही लगातार बारिश की वजह से रेल यातायात और स्वास्थ्य सुविधाएं प्रभावित हुई हैं. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने पूर्वानुमान जताया कि बिहार के अधिकतर इलाकों में अगले 48 घंटे तक मध्यम से भारी बारिश होगी और स्थिति तीन अक्टूबर के बाद सामान्य होगी. उधर, भारतीय मौसम विज्ञान के प्रतिनिधि ने अगले 48 घंटे के पूर्वानुमान में बताया कि मध्य बिहार, पूर्वी बिहार, उत्तर पूर्वी बिहार एवं दक्षिण पूर्वी बिहार में वर्षा की स्थिति बनी रहेगी.  

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर साधा निशाना, कहा- कुछ घंटों की बारिश ने सरकार के...

गौरतलब है कि बिहार की राजधानी पटना में हो रही लगातार बारिश के बाद बने हालात को लेकर नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा है. तेजस्वी यादव ने पिछले कईं दिनों से राज्य में हो रही बारिश के चलते राजधानी और आसपास के इलाकों के जलमग्न हो जाने को लेकर राज्य सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा, 'कुछ घंटों की बारिश ने राज्य सरकार के सुशासन की पोल खोलकर कर दी है.' तेजस्वी यादव ने कहा कि कुछ घंटों की बारिश ने बिहार के लोगों का सामान्य जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है. उन्होंने, 'घरों, स्कूलों, अस्पतालों, कार्यालयों, बाजार आदि में नालियों से पानी बह रहा है.' उन्होंने नीतीश कुमार से सवाल करते हुए कहा, 'मुख्यमंत्री को बताना चाहिए कि क्या कुछ घंटों की बारिश को आपातकाल माना जा सकता है?' उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार सरकार को अपने प्रशासन की नाकामी के लिए विपक्ष और प्रकृति को दोष देने की आदत है.  

बिहार : उपमुख्यमंत्री सहित 2 पूर्व मुख्यमंत्रियों के घरों में घुसा पानी

वहीं इससे पहले बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा था कि इस तरह की स्थिति किसी के हाथ में नहीं है. यह प्राकृतिक है. लोगों को पीने का पानी मुहैया कराने के लिए इंतजाम किया गया है. खाने की कमी से परेशान लोगों के लिए कम्यूनिटी किचेन बनाए गए हैं. सीएम नीतीश कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा था, 'कल से कुछ क्षेत्रों में भारी वर्षा हो रही है और गंगा नदी में पानी लगातार बढ़ रहा है, लेकिन उचित व्यवस्थाएं कर ली गई हैं. प्रशासन मौके पर मौजूद है और लोगों की मदद करने के लिए सभी प्रयास कर रहे हैं.'

नीतीश सरकार के मंत्री ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘घड़ियाली आंसू' बहाना बंद करें

बता दें कि देश के कई हिस्सों में बारिश ने एकबार फिर से कहर बरपा दिया है. बारिश से संबंधित घटनाओं में उत्तर प्रदेश में अब तक करीब 73 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि बिहार में 70 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. लगातार बारिश से राज्य की राजधानी पटना की सड़कों और अन्य क्षेत्रों में जलभराव हो गया और दो मंत्रियों के घर पानी में घिर गए. सरकार की तरफ से जारी बयान के अनुसार बारिश के कारण घर गिरने, पेड़ गिरने तथा सांप के काटने के चलते लोगों की मौत हुई. कच्चे मकानों के गिरने के अलावा दीवार गिरने के कारण भी लोगों की मौत हुई है. सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि वर्षाजनित इन हादसों में कई लोग घायल भी हुए हैं. 

टिप्पणियां

Video: जहां नजर उधर ही पानी, ये है पटना राजधानी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement