"गैरकानूनी धर्मांतरण" के लिए UP में 6 लोग अरेस्ट, 5 फरार आरोपियों पर 25-25 हजार का इनाम

उत्तर प्रदेश पुलिस ने इस मामले में धर्मांतरण से जुड़े नए कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया है और आरोपियों की धरपकड़ के लिए कार्रवाई शुरू की.

खास बातें

  • लड़की को किडनैप करके शादी करने का आरोप
  • पिछले महीने से गायब है लड़की : पुलिस
  • फरार आरोपियों की तलाश के लिए इनाम घोषित
एटा:

गैरकानूनी धर्मांतरण निषेध कानून (Unlawful Conversion Law) के तहत उत्तर प्रदेश के एटा जिले में एक ताजा मामले में छह मुस्लिमों को गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में पुलिस को अब भी पांच और लोगों की तलाश है. उत्तर प्रदेश में धर्मांतरण को लेकर लाए गए नए कानून की तीखी आलोचना हो रही है. सेवानिवृत्त जजों समेत कई लोगों ने कानून को असंवैधानिक और मूलभूत अधिकारों के खिलाफ बताया है. 

पुलिस ने बयान में कहा कि यूपी के एटा जिले में 21 साल की हिंदू युवती के पिता ने जलेसर में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. उन्होंने आरोप लगाया कि एक मुस्लिम शख्स और उसके रिश्तेदारों ने धर्मांतरण और शादी के उद्देश्य से उनकी बेटी को किडनैप किया. पुलिस ने कहा कि 17 नवंबर को युवती बाजार के लिए घर से निकली थी और तब से "गायब" है. 

पुलिस ने इस मामले में धर्मांतरण से जुड़े नए कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया है और आरोपियों की धरपकड़ के लिए कार्रवाई शुरू की. पुलिस ने अब तक 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. फरार आरोपियों पर इनाम भी घोषित किया गया है.

धर्मांतरण विरोधी अध्यादेश पर बोले पूर्व जस्टिस एपी शाह - इसे तुरंत खत्म कर देना चाहिए


एटा पुलिस ने सोमवार को अपने ट्वीट में लिखा, "जलेसर क्षेत्र में बालिका को बहला-फुसलाकर ले जाने तथा जबरन धर्म परिवर्तन करा शादी कराने के मामले में फरार चल रहे 3 अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. अब तक आधा दर्जन आरोपियों को जेल भेजा जा चुका है. 5 नामजद फरार आरोपियों की गिरफ्तारी पर 25000-25000 रुपए का इनाम जारी हुआ."

वीडियो: मुरादाबाद के दो मुस्लिम युवकों पर "लव जिहाद" कानून की मार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com