NDTV Khabar

ट्रांसफर से गुस्साए दरोगा ने लगा दी 65 किलोमीटर की दौड़, लेकिन बीच रास्ते में ही...देखें- VIDEO

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. इटावा में ट्रांसफ़र किए जाने से नाराज़ दरोगा ने विरोध प्रदर्शन के रूप में 65 किलोमीटर की दौड़ लगाने की ठानी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ट्रांसफर से गुस्साए दरोगा ने लगा दी 65 किलोमीटर की दौड़, लेकिन बीच रास्ते में ही...देखें- VIDEO

एसआई विजय प्रताप

खास बातें

  1. उत्तर प्रदेश के इटावा जिले का है मामला
  2. पुलिस लाइन में पोस्टेड थे सब इंस्पेक्टर
  3. ट्रांसफर के बाद नाराजगी जाहिर करने के लिए लगाई दौड़
नई दिल्ली :

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. इटावा में ट्रांसफ़र किए जाने से नाराज़ दरोगा ने विरोध प्रदर्शन के रूप में 65 किलोमीटर की दौड़ लगाने की ठानी. दरोगा का कहना था कि अधिकारों का दुरुपयोग करके उनका ट्रांसफ़र किया है और इसका विरोध करते हुए वो 65 किमी तक दौड़ लगाएंगे और लोगों को जागरूक करेंगे, लेकिन कुछ ही दूर जाने के बाद दरोगा रास्ते में बेहोश हो गए जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक दरोगा का नाम विजय प्रताप है, जो पुलिस लाइन में पोस्टेड थे. यहां से उनका तबादला बिठोली थाने कर दिया गया. 

टिप्पणियां

इसके बाद अपना विरोध दर्ज कराने के लिए विजय प्रताप ने पुलिस लाइन से बिठोली थाने तक दौड़ लगाने की ठानी. हालांकि दौड़ते-दौड़ते वह सड़क पर ही गिर पड़े. इसके बाद अानन-फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया. एसआई विजय प्रताप ने कहा कि, 'आरआई (रिजर्व इंस्पेक्टर ऑफ पुलिस) की तानाशाही की वजह से मेरा ट्रांसफर किया जा रहा है.

ock71gqg

एसएसपी ने मुझे पुलिस लाइन में ही रहने को कहा था, लेकिन आरआई जबरन मेरा तबादला बिठोली थाने कर रहे हैं. आप इसे मेरा गुस्सा कहें या नाराजगी, मैंने दौड़ते हुए ही बिठोली जाने का निर्णय लिया है. गौरतलब है कि विजय प्रताप के बीच रास्ते में ही गिरने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया और फिलहाल पूरे मामले की जांच चल रही है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement