NDTV Khabar

लॉ छात्रा ने आरोपी चिन्मयानंद के खिलाफ सौंपे SIT को सबूत, कहा- पेन ड्राइव में है सबकुछ

पीड़िता ने कहा कि मेरे दोस्तों ने एसआईटी को एक पेन ड्राइव दी है जिसमें आरोपी के खिलाफ तमाम सबूत हैं. बता दें कि पुलिस फिलहाल इस पूरे मामले की जांच करने में जुटी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लॉ छात्रा ने आरोपी चिन्मयानंद के खिलाफ सौंपे SIT को सबूत, कहा- पेन ड्राइव में है सबकुछ

पीड़ित लड़की ने चिन्मयानंद पर लगाए गए संगीन आरोप

खास बातें

  1. पूर्व मंत्री पर है रेप करने का आरोप
  2. लॉ की छात्रा ने लगाया है रेप करने का आरोप
  3. एसआईटी कर रही है मामले की जांच
नई दिल्ली:

भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही है. स्वामी चिन्मयानंद पर रेप और प्रताड़ित करने का आरोप लगाने वाली लड़की के दोस्तों ने बुधवार को इस मामले से जुड़े कई सबूतों से भरा एक पेन ड्राइव एसआईटी (SIT) को सौंपा है. पीड़िता ने कहा कि मेरे दोस्तों ने एसआईटी को एक पेन ड्राइव दी है जिसमें आरोपी के खिलाफ तमाम सबूत हैं. बता दें कि पुलिस फिलहाल इस पूरे मामले की जांच करने में जुटी है. SIT को पेन ड्राइव देने से पहले पीड़ित छात्रा ने 12 पन्नों में दर्ज शिकायत भी सौंपी थी. लड़की द्वारा SIT को दिए बयान में कई चौंका देने वाली बातें सामने आई हैं. पीड़िता का कहना है कि चिन्मयानंद ने ब्लैकमेल कर रेप किया है. पीड़िता का हॉस्टल के बाथरूम में नहाने का वीडियो बनाया गया और उस वीडियो को वॉयरल करने की धमकी देकर एक साल तक रेप करता रहा. 

छोटी सी पेन-ड्राइव चिन्मयानंद के लिए बन सकती है 'बड़ी-मुसीबत', जानें पूरा मामला


गौरतलब है कि एसआईट को पेन ड्राइव देने से पहले पीड़िता ने बताया कि चिन्मयानंद ने शारीरिक शोषण का वीडियो भी बनाया है. चिन्मयानंद पीड़िता से मसाज करने का भी दबाव बनाता था और कई बार उसके साथ बंदूक के दम पर भी रेप हुआ है. लड़की ने भी अपने बचाव के लिए चिन्मयानंद का वीडियो बनाया है. लड़की ने इसके लिए अपनी चश्मे में खुफिया कैमरा लगाया और चिन्मयानंद का वीडियो बनाया है.

चिन्मयानंद केस: सामने आया छात्रा से मसाज कराने वाला VIDEO, वकील बोला- यह फर्जी है, कंप्यूटर से बनाया गया

वहीं, रेप का आरोप लगाने वाली लड़की ने घर पास में होने के बावजूद हॉस्टल में रहने के पीछे कारणों का खुलासा किया है. उसने बताया कि वह एलएलएम में एडमीशन लेने के लिए गई था लेकिन चिन्मयानंद ने उसे नौकरी दे दी. नौकरी में काम का ज्यादा बोझ होने के कारण उसे हॉस्टल में रहना पड़ा जहां उसके साथ गलत हुआ. मंगलवार को पुलिस की एसआईटी ने लड़की के शाहजहांपुर में स्थित हॉस्टल के कमरे में रेप के सबूत तलाशे.

चिन्मयानंद मामले में कांग्रेस का सत्ताधारी पार्टी पर हमला, कहा- BJP के DNA में शामिल है ‘अपराधियों से प्रेम'

टिप्पणियां

स्वामी चिन्मयानंद (Chinmayanand) मामले में विशेष जांच दल (एसआईटी) ने पीड़ित लड़की के हॉस्टल का कमरा देखा और साक्ष्य जुटाए. एसआईटी दोपहर में कॉलेज परिसर पहुंची. टीम ने करीब पांच घंटे तक छात्रा के कमरे का बारीकी से निरीक्षण किया. टीम के साथ फॉरेंसिक विशेषज्ञ भी मौजूद रहे.पीड़िता जिस कमरे में रहती थी, पुलिस ने उसे सील किया हुआ था. एसआईटी ने उसकी सील तोड़ कर मौका मुआयना किया.

VIDEO: चिन्मयानंद के खिलाफ सबूत तलाशने हॉस्टल पहुंची SIT



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement