उत्तर प्रदेश: नकली नोट छापने वाले गिरोह का पदार्फाश, 3 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जनपद की पुलिस ने नकली नोट छापने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इनके पास से 32,800 रुपये के नकली नोट, प्रिंटर सहित अन्य सामान बरामद किए हैं.

उत्तर प्रदेश: नकली नोट छापने वाले गिरोह का पदार्फाश, 3 गिरफ्तार

नकली नोट बनाने वाले इस गिरोह के तार यूपी, बिहार और मध्य प्रदेश तक फैले हुए थे (फाइल फोटो)

खास बातें

  • 32,800 रुपये के नकली नोट, प्रिंटर सहित अन्य सामान बरामद
  • गिरोह के तार बिहार, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में फैले हुए
  • 5,000 के असली नोट के बदले में 15,000 रुपये के नकली नोट
कुशीनगर:

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जनपद की पुलिस ने  नकली नोट छापने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इनके पास से 32,800 रुपये के नकली नोट, प्रिंटर सहित अन्य सामान बरामद किए हैं.

पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि एएसपी हरि गोविंद की अगुवाई में थानाध्यक्ष कसया और स्वॉट टीम की संयुक्त कार्रवाई में यह सफलता मिली. कसया थाना क्षेत्र के मल्लूडीह से तीन व्यक्ति गिरफ्तार किए गए हैं.

यह भी पढ़ें: 
नकली नोट छापकर आधी कीमत में बेचते थे पति-पत्नी 
सूरत में फर्जी नोटों के साथ पाकिस्तानी पकड़ा गया

गिरफ्तार आरोपियों में से निजामुद्दीन ने बताया कि वह नकली करेंसी छापने का काम करता था तथा उसके दो साथी बिहार के गोपालगंज, पश्चिमी चंपारण, बगहा एवं उत्तर प्रदेश के कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया, बलिया, महराजगंज, बस्ती सहित कई जनपदों में ग्राहक ढूंढते थे तथा 5,000 रुपये असली करेंसी के बदले में 15,000 रुपये के नकली नोट देते थे.आरोपी ने बताया कि काफी मात्रा में नकली नोट बिहार, गोरखपुर और बस्ती आदि क्षेत्रों में अदला-बदली की जाती है.

निजामुद्दीन और सलाउद्दीन जनपद के पटहेरवा थाना क्षेत्र के अबराजी कोटवा गांव के निवासी हैं. जबकि तीसरा आरोपी अजहरुद्दीन अंसारी इसी थाना क्षेत्र के खाली कोटवा गांव का निवासी है.

VIDEO:2000 रुपये के नकली नोट छापने वाले रैकेट का खुलासा पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस ने इनके पास से 32,800 रुपये नकली करेंसी, एक पेपर कटर, एक प्रिंटर, एक मार्कर पेन, नोट छापने के 11 पेपर और एक बाइक बरामद की है. इनके खिलाफ कसया थाने में पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बाद जेल भेज दिया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इनपुट आईएएनएस से)