NDTV Khabar

जल निगम भर्ती मामले में पूर्व मंत्री आजम खान के खिलाफ एसआईटी ने दर्ज किया मामला

इस मामले में भाजपा सरकार ने जांच शुरू की थी, ताकि यह पता लगाया जा सके कि क्या नवंबर 2016 और फरवरी 2017 के बीच जल निगम भर्ती में गलत तरीके से लोगों को नौकरियां दी गई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जल निगम भर्ती मामले में पूर्व मंत्री आजम खान के खिलाफ एसआईटी ने दर्ज किया मामला

आजम खान की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

जल निगम भर्ती घोटाले में समाजवादी पार्टी नेता और पूर्व मंत्री आजम खान के खिलाफ उत्तर प्रदेश पुलिस की एसआईटी ने मामला दर्ज किया. आधिकारिक सूत्रों ने यहां ब​ताया कि आजम एवं अन्य के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया. एसआईटी पूर्ववर्ती अखिलेश यादव सरकार में जल निगम में हुई 1342 लोगों की भर्ती में हुई अनियमितताओं की जांच कर रही है. शिकायतकर्ताओं ने आरोप लगाया था कि भर्ती के दौरान नियमों को दरकिनार करते हुए गलत नियुक्तियां की गईं. वहीं, भाजपा की सरकार आने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि सपा के कार्यकाल में हुई हर सरकारी विभाग की भर्तियों की जांच कराएंगे.

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी के अजान के वक्‍त भाषण रोकने पर आजम खान ने कसा ये तंज


जल निगम में हुई भर्तियों की जांच बीते साल एसआईटी को दी गई थी. इन पदों पर हुई थी भर्तियां सहायक अभियंता- 122, अवर अभियंता- 853, नैतिक लिपिक - 335, और आशुलिपिक- 32 है. इस एफआईआर में तत्कालीन नगर विकास मंत्री आजम खान के ओएसडी सैययद आफाक अहमद, तत्कालीन नगर विकास सचिव श्रीप्रकाश सिंह, जल निगम के प्रबंध निदेशक प्रेम कुमार आसुदानी, मुख्य अभियंता अनिल कुमार खरे के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है.

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश : सपा नेता आजम खान को जान से मारने की धमकी, पुलिस जांच में जुटी

इस मामले में भाजपा सरकार ने पिछले साल जुलाई में जांच शुरू की थी, ताकि यह पता लगाया जा सके कि क्या नवंबर 2016 और फरवरी 2017 के बीच जल निगम भर्ती में गलत तरीके से लोगों को नौकरियां दी गई थी. इन भर्तियों के समय आजम खान जल निगम के चेयरमैन थे. इस मामले में 122 असिस्टेंट इंजीनियर को सरकार पहले ही बर्खास्त कर चुकी है.

टिप्पणियां

VIDEO: पीएम मोदी के भाषण पर आजम खान ने किया तंज.

इससे पहले 22 सितंबर को एसआईटी का जल निगम के मुख्यालय पर छापा पड़ा था. 5 दिसंबर को तत्कालीन एमडी पीके आसुदानी से पूछताछ हुई थी. अब तक इस मामले में 8 अफसरों के बयान एसआईटी दर्ज कर चुकी है. (इनपुट भाषा से) 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement