यूपी के साढ़े पांच लाख शिक्षक बच्‍चों को पढ़ा रहे शिक्षा, सुरक्षा व संरक्षा का पाठ

मिशन शक्ति अभियान के तहत प्रदेश सरकारी स्‍कूलों में चल रहा जागरूकता कार्यक्रम, साढ़े छह लाख से अधिक बच्‍चों को जागरूक किया जा चुका है

यूपी के साढ़े पांच लाख शिक्षक बच्‍चों को पढ़ा रहे शिक्षा, सुरक्षा व संरक्षा का पाठ

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश सरकार के मिशन शक्ति अभियान के तहत पूरे प्रदेश के पांच लाख 68 हजार शिक्षक छात्र-छात्राओं को सप्‍ताह में तीन दिन एक घंटे तक शिक्षा, सुरक्षा एवं संरक्षा का पाठ पढ़ा रहे हैं. छात्राओं की जागरूकता के लिए मिशन प्ररेणा की वेबसाइट से शिक्षकों को विडियोज व अन्‍य सामग्री भी उपलब्‍ध कराई जा रही है. मिशन शक्ति अभियान के तहत अब तक 6 लाख 71 हजार 236 छात्र-छात्राओं को जागरूक किया जा चुका है.

मिश‍न शक्ति अभियान के तहत छात्र-छात्राओं के साथ उनके अभिभावकों को भी जागरूक किया जा रहा है. रोजाना दस-दस अभिभावकों को स्‍कूल बुलाकर अरमान माडयूल की मदद से मेरे बच्‍चे मेरे सपने, क्‍यों करें इम इनमें अंतर, हमारी जिम्‍मेदारी, चलो हम भी जाने, बंद करों अब अत्‍याचार से मुददों पर चर्चा कर उनको बाल अधिकारों के बारे में जागरूक किया जा रहा है. इसके अलावा अभिभावकों को बाल विवाह, बालश्रम, दहेज प्रथा जैसी कुप्रथाओं के बारे में जानकारी दी जा रही है. 

Newsbeep

खेल विभाग में आयोजित हुए शिविर 
उत्‍तर प्रदेश सरकार के मिशन शक्ति अभियान के तहत खेल विभाग ने महिला खिलाडि़यों को अपनी खेल विधाओं के साथ आत्‍मरक्षा के गुर भी सीखा रहा है. खेल विभाग की ओर से 31 खेलों के प्रशिक्षण शिविर में मिशन शक्ति अभियान के तहत आत्‍मरक्षार्थ ताइक्‍वांडो, जूडो, वुशू एवं कराटे की ट्रेनिंग दी गई.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


निदेशक खेल डॉ आरपी सिंह के मुताबिक मिशन शक्ति अभियान के तहत महिला व पुरूष दोनों ही खिलाडि़यों को महिला सम्‍मान के प्रति जागरूक किया जा रहा है. महिला खिलाडि़यों को आत्‍मरक्षा के गुर सिखाने के लिए विशेष प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जा रहे हैं. उन्‍होंने बताया कि अब तक पूरे उत्‍तर प्रदेश में अब तक कुल 522 प्रशिक्षण शिविर आयोजित हुए हैं. इसमें 109 महिला प्रशिक्षक बालिकाओं को ट्रेनिंग दे रही हैं.