NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश : बदायूं में गैंगरेप पीड़िता ने फांसी लगाकर खुदकुशी की, पुलिस ने घटना से किया था इनकार

बदायूं के मूसाझाग क्षेत्र में पिछले दिनों कथित रूप से सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई एक किशोरी ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश : बदायूं में गैंगरेप पीड़िता ने फांसी लगाकर खुदकुशी की, पुलिस ने घटना से किया था इनकार

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. बदायूं में गैंगरेप पीड़िता ने फांसी लगाकर खुदकुशी की
  2. पुलिस ने घटना से किया था इनकार
  3. पुलिस अब ऑनर किलिंग से भी मामले को जोड़कर जांच में जटी है
बदायूं: बदायूं के मूसाझाग क्षेत्र में पिछले दिनों कथित रूप से सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई एक किशोरी ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. खुदकुशी करने वाली लड़की की मां ने बलात्कार के आरोपियों पर धमकाने और समझौता करने का दबाव बनाने का आरोप लगाया है. वहीं दूसरी ओर पुलिस अधिकारी इस मामले को ऑनर किलिंग से भी जोड़कर जांच में जुट गए हैं. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने यहां बताया कि गत 20 अगस्त को तीन युवकों द्वारा कथित रूप से सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई एक लड़की ने गुरुवार को करीब पांच बजे अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मृतका की मां और भाई ने आरोपी पक्ष पर धमकाने और फैसला करने का दबाव बनाने का आरोप लगाया और उन्हें आत्महत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया है. 

यह भी पढ़ें: उन्नाव रेप केस पर जर्मनी में राहुल का PM मोदी पर निशाना, बोले- क्या न्याय का यही तरीका है 'श्रीमान 56'

कुमार ने बताया कि लड़की के शव का पोस्टमार्टम तीन डॉक्टरों के पैनल के जरिए करवाया जा रहा है. उसकी रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा कि लड़की ने आत्महत्या की है अथवा ये मामला ऑनर किलिंग का है. आरोपियों द्वारा धमकियां देने के मामले पर उन्होंने कहा कि परिजन जो भी तहरीर देंगे और मेडिकल रिपोर्ट एवं जांच में जो भी सबूत मिलेंगे, उनके आधार पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. उल्लेखनीय है कि मूसाझाग थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली एक लड़की के परिजन ने तहरीर देकर आरोप लगाया था कि गत 20 अगस्त को लंकुश नामक युवक अपने दो साथियों के साथ घर में घुसा था. 

यह भी पढ़ें: दिल्ली के वसंत कुंज में नौ साल की बच्ची से रेप, पीड़ित अस्पताल में भर्ती

टिप्पणियां
तीनों ने पहले पीड़िता की मां को तमंचे के बल पर बंधक बनाया और पीड़िता को मुंह में कपड़ा ठूंस कर उठा ले गए. बाद में आरोपियों ने गांव के ही एक स्कूल में ले जाकर सामूहिक बलात्कार की वारदात को अंजाम दिया. इस मामले में तीनों युवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था और आरोपी लंकुश को 21 अगस्त की शाम को गिरफ्तार कर लिया गया था. इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने 22 अगस्त को एक बयान जारी करते हुए कहा था कि मेडिकल रिपोर्ट में किशोरी के साथ दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है. 

VIDEO: मंदसौर रेप के दोषियों को फांसी की सजा
आरोपी लड़का पीड़िता का पहले से ही परिचित है और दोनों के बीच कुछ दिनों के अंदर मोबाइल फोन पर 122 बार बातचीत हुई थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement