NDTV Khabar

गाजियाबाद के डीएम और एसएसपी ने हेलिकॉप्टर से कांवड़ियों पर बरसाए फूल

राज्य सरकार द्वारा मुहैया कराये गये हेलीकॉप्टर ने हडसन पुलिस लाइन मैदान से उड़ान भरने के बाद रास्ते से गुजरने वाले कांवड़ियों पर फूल बरसाना शुरू किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गाजियाबाद के डीएम और एसएसपी ने हेलिकॉप्टर से कांवड़ियों पर बरसाए फूल

गाजियाबाद के डीएम और एसएसपी ने कांवड़ियों पर बरसाए फूल

खास बातें

  1. गाजियाबाद के डीएम ने की फूल वर्षा
  2. हेलीकॉप्टर से कांवड़ियों पर बरसाए फूल
  3. कांवड़ियों पर फूल बरसाने की यह कोई पहली घटना नहीं
गाजियाबाद:

यूपी पुलिस और सरकार के अधिकारी इन दिनों कांवड़ियों की सेवा का कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहते. अब इस कड़ी में गाजियाबाद प्रशासन भी शामिल हो गया है. गाजियाबाद के डीएम अजय शंकर पांडे और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने जिले से गुजर रहे कांवड़ियों पर हेलिकॉप्टर से फूल बरसाए. राज्य सरकार द्वारा मुहैया कराये गये हेलीकॉप्टर ने हडसन पुलिस लाइन मैदान से उड़ान भरने के बाद रास्ते से गुजरने वाले कांवड़ियों पर फूल बरसाना शुरू किया. जिलाधिकारी ने बताया कि फूल बरसाए जाने के साथ-साथ सुरक्षा व्यवस्था पर भी पूरी नजर रखी गयी. इससे पहले, भाजपा के बागपत से सांसद सत्यपाल सिंह ने लोनी के विधायक किशोर गुर्जर के साथ रविवार को गाजियाबाद में कांवड़ियों पर फूल बरसाए थे.

जब यूपी पुलिस के अधिकारियों ने हेलीकॉप्टर से कांवड़ियों पर की 'फूल वर्षा', देखें वीडियो


कांवड़ियों पर फूल बरसाने की कोई यह पहली घटना नहीं है.इससे पहले सुरक्षा हालात का हवाई जायज़ा लेने के लिए इलाके के हवाई सर्वेक्षण पर निकले उत्तर प्रदेश के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी द्वारा कांवड़ियों का गुलाब के फूलों की पत्तियां फेंककर स्वागत करने से सोशल मीडिया पर बवाल मचा था.और इसे 'करदाताओं के पैसे का दुरुपयोग' करार दिया गया था. एक वीडियो सामने आया है, जिसमें मेरठ ज़ोन के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार हेलीकॉप्टर में सवार होकर कांवड़ियों पर फूल बरसाते दिखाई दिए थे. चॉपर में उनके साथ कमिश्नर चंद्रप्रकाश त्रिपाठी भी सवार थे.

VIDEO: शिव भक्त 'कांवड़ियों' का तांडव जारी, दिल्ली के बाद अब बुलंदशहर में पुलिस जीप के परखच्चे उड़ाए

पुलिस ने इसे हल्की-फुल्की 'PR' कवायद बताया था, लेकिन सोशल मीडिया इस्तेमाल करने वाले इससे नाराज़ थे. यूज़रों का मानना है कि भीड़ को बेहतर तरीके से मैनेज करने के लिए किए जाने वाले हवाई सर्वेक्षण का दुरुपयोग किया गया था. इस वीडियो पर ढेरों कमेंट - 'इस बकवास को देखकर नाराज़ हूं...', 'इस मौज की सवारी का खर्चा कौन उठा रहा था...', 'ताकत का दुरुपयोग' - लिखे गए थे.

यह वीडियो ऐसे वक्त पर सामने आया था,जब कांवड़ियों द्वारा किए जा रहे हंगामों और तोड़फोड़ की ख़बरें लगातार पढ़ने को मिल रही थी. कुछ दिन पहले ही दिल्ली के मोती नगर इलाके में कांवड़ियों ने सड़क पर एक कार के उन्हें सिर्फ छू जाने के बाद उसे बुरी तरह तोड़फोड़ डाला था, जिसका वीडियो काफी वायरल हुआ था. इस वीडियो की भी सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना की गई थी. उत्तर प्रदेश के ही बुलंदशहर से एक और वीडियो सामने आया था, जिसमें कांवड़ियों ने पुलिस वाहन को बुरी तरह तोड़फोड़ डाला था.

दिल्ली में कांवड़ियों का तांडव; कार के परखच्चे उड़ाए, चालक महिला ने भागकर जान बचाई

कांवड़ यात्रा एक वार्षिक तीर्थयात्रा है, जिसमें भगवान शिव के भक्त अपने घरों से पावन मानी जाने वाली गंगा नदी तक जाते हैं, और गंगाजल भरकर लाते हैं, ताकि भगवान शिव के प्रतिरूप शिवलिंग पर उसे चढ़ सकें. यह यात्रा श्रावण मास में की जाती है, जो हिन्दू कैलेंडर का पांचवां महीना होता है.

VIDEO: सिटी सेंटर : पुलिस के सामने कांवड़िये ने की कार की तोड़ फोड़

. मंगलवार को ही दिल्ली के मोती नगर इलाके में कांवड़ियों ने सड़क पर एक कार के उन्हें सिर्फ छू जाने के बाद उसे बुरी तरह तोड़फोड़ डाला था, जिसका वीडियो काफी वायरल हुआ. इस वीडियो की भी सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना की गई. गुरुवार को भी उत्तर प्रदेश के ही बुलंदशहर से एक और वीडियो सामने आया है, जिसमें कांवड़ियों ने पुलिस वाहन को बुरी तरह तोड़फोड़ डाला है.

दिल्ली में कांवड़ियों का तांडव; कार के परखच्चे उड़ाए, चालक महिला ने भागकर जान बचाई

1टिप्पणियां

टिप्पणियां

कांवड़ यात्रा एक वार्षिक तीर्थयात्रा है, जिसमें भगवान शिव के भक्त अपने घरों से पावन मानी जाने वाली गंगा नदी तक जाते हैं, और गंगाजल भरकर लाते हैं, ताकि भगवान शिव के प्रतिरूप शिवलिंग पर उसे चढ़ सकें. यह यात्रा श्रावण मास में की जाती है, जो हिन्दू कैलेंडर का पांचवां महीना होता है.

VIDEO: सिटी सेंटर : पुलिस के सामने कांवड़िये ने की कार की तोड़ फोड़



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement